ताज़ा खबर
 

अमित शाह के बेटे की कंपनी का अविश्‍वसनीय टर्नओवर देख लोग हैरान, बोले- ‘जय का विकास’ हो गया

#amitshahkiloot ट्विटर पर टॉप ट्रेंडिंग बना हुआ है।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय अमितभाई शाह की कंपनी टेम्पल इन्टरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड का टर्नओवर कथित तौर पर 16 हजार गुना बढ़ने पर ट्विटर पर केंद्र सरकार निशाने पर आ गई है। (फोटो सोर्स ट्विटर)

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय अमितभाई शाह की कंपनी टेम्पल इन्टरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड का टर्नओवर कथित तौर पर 16 हजार गुना बढ़ने पर ट्विटर पर केंद्र सरकार निशाने पर आ गई है। #amitshahkiloot ट्विटर पर टॉप ट्रेंडिंग बना हुआ है। ट्वीट में कई यूजर्स ने मोदी सरकार के भ्रष्टाचार मुक्त और घोटाला मुक्त सरकार पर सवाल उठाए हैं। एक यूजर लिखते हैं, ‘जय का विकास हो गया।’ नगमा लिखती हैं, ‘वित्त मंत्री अरुण जेटली क्या इसकी जांच पड़ताल कराएंगे?’ सलमान अनीस लिखते हैं, ‘मोदी किसानों से कहते हैं, मैं आपकी आय डबल कर दूंगा, जुमला था। अमित शाह के बेट की इनकम बढ़ी हैं बस।’ पवन खेरा लिखते हैं, ‘पीएम मोदी क्या इसके खिलाफ कार्वाई करेंगे? अब क्या आपकी पीठ पीछे घोटाला हुआ है?’ सीमा लिखती हैं, ‘अमित शाह के पुत्र बिजनेस टाइकून के रूप में उभकर सामने आए हैं। उनकी आय कुछ ही महीनों में हजारों गुना बढ़ गई।’ डॉक्टर लूटपार्टी लिखते हैं, ‘जय अमित शाह को वित्त मंत्री बनाया जाना चाहिए। जल्द ही देश की अर्थव्यवस्था 16000 गुना बढ़ जाएगी।’ राजवी लिखते हैं, ‘जय का विकास हो गया। जबकि पूरा भारत अच्छे दिन खोज रहा था।’

गौरतलब है कि नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनते और अमित शाह भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष बनते ही उनके बेटे जय शाह की कंपनी टर्नओवर 16 हजार गुना बढ़ गया है। वेबसाइट ‘द वायर’ के मुताबिक रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज (आरओसी) से प्राप्त दस्तावेजों के अनुसार जय की कंपनी की बैलेंस शीट में बताया गया है कि मार्च 2013 और मार्च 2014 तक उनकी कंपनी में कुछ खास कामकाज नहीं हुए और इस दौरान कंपनी को क्रमश: कुल 6,230 रुपये और 1,724 रुपये का घाटा हुआ। लेकिन जैसे ही केंद्र में नरेंद्र मोदी की सरकार बनी और उनके पिता भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने जय शाह की कंपनी के टर्नओवर में आश्चर्यजनक रूप से इजाफा हुआ है।

साल 2014-15 के दौरान उनकी कंपनी को कुल 50,000 रुपये की इनकम पर कुल 18,728 रुपये का लाभ हुआ। मगर 2015-16 के वित्त वर्ष के दौरान जय की कंपनी का टर्नओवर लंबी छलांग लगाते हुए 80.5 करोड़ रुपये का हो गया। यह 2014-15 के मुकाबले 16 हजार गुना ज्यादा है। जय की कंपनी टेम्पल इन्टरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड के टर्नओवर में उछाल की वजह 15.78 करोड़ रुपये का अनसेक्योर्ड लोन है जिसे राजेश खंडवाल की फिनांशियल सर्विसेज फर्म ने उपलब्ध कराया है। यहां यह बताना जरूरी है कि राकेश खंडवाला भाजपा के राज्यसभा सांसद और रिलायंस इंडस्ट्रीज के टॉप एग्जिक्यूटिव परिमल नथवानी के समधी हैं।