ताज़ा खबर
 

VIDEO: लाइव टीवी पर फारूक अब्‍दुल्‍ला ने एंकर को कहा ‘आतंकवादी’, माइक उतारकर चले गए

एंकर ने सवाल पूछा कि एनसी नेता सिर्फ कश्मीर की बात क्यों करते हैं वो पूरे हिंदुस्तान की बात क्यों नहीं करते।

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला। (फाइल फोटो)

नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने भाजपा नीत केंद्र सरकार के खिलाफ सोमवार (11 मार्च, 2019) को गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि उसने लोकसभा चुनाव जीतने के ‘एकमात्र उद्देश्य’ के साथ पाकिस्तान के बालाकोट में हवाई हमले के आदेश दिए। श्रीनगर से सांसद ने आरोप लगाया कि भाजपा सभी मोर्चो पर ‘विफल’ रही और यह पूरी तरह माना जा रहा था कि चुनाव से पहले पाकिस्तान के साथ लड़ाई या टकराव होगा ताकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक ‘अवतार’ के रूप में सामने आए जिसके बिना भारत का गुजारा हो ही नहीं सकता।

जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम से जब एबीपी न्यूज के एंकर सुमित अवस्थी ने उनके इसी बयान पर प्रतिक्रिय मांगी तो उन्होंने अपने पिछले बयान का बचाव करती हुए यही बात दोहराई। उन्होंने कहा कि संसद सत्र के आखिरी दोनों में इस बात का चर्चा थी कि मौजूदा सरकार पाकिस्तान के खिलाफ कुछ ना कुछ ऐसा जरूर करेगी, क्योंकि सरकार हर चीज में नाकामयाब हुई। इस दौरान सांसद ने एंकर को आतंकवादी तक कह डाला।

दरअसल एंकर ने सवाल पूछा कि एनसी नेता सिर्फ कश्मीर की बात क्यों करते हैं वो पूरे हिंदुस्तान की बात क्यों नहीं करते। इस पर गुस्साए पूर्व सीएम ने कहा कि कश्मीरी बच्चों को कॉलेज, स्कूल और यूनिवर्सिटी में किसने मारा। वो आंतकवाद के साथ भी नहीं थे। अब्दुल्ला के इस सवाल के जबाव में एंकर ने आतंकी बुरहान वानी का नाम लिया था तो उन्होंने कहा कि बुरहान आतंकी था। फारूक अब्दुल्ला ने आगे कहा, ‘हमें आतंकवादी समझते हैं क्या? आतंकवादी आप (एंकर) हैं। आपका मीडिया आतंकवादी है। जिसने हिंदुस्तान में आग लगा दी।’ इसके कुछ सेकंड बाद पूर्व सीएम लाइव टीवी शो छोड़कर चले गए।

यहां देखें वीडियो-

बता दें कि फारूख अब्दुल्ला ने पत्रकारों से कहा कि यह र्सिजकल स्ट्राइक पूरी तरह से चुनाव के लिए, केवल चुनाव के उद्देश्य से की गई। हमने करोड़ों रुपये मूल्य का विमान गंवा दिया। शुक्र है कि भारतीय वायु सेना का पायलट जीवित बच गया और सम्मान के साथ पाकिस्तान से लौट आया। अब्दुल्ला ने कहा, ‘‘संसद में हमें पता है कि वे सभी दूसरे मोर्चों पर विफल हो गए और कश्मीर में पाकिस्तान के साथ लड़ाई या टकराव होगा ताकि वह एक तरह का ‘अवतार’ बन जाए जिनके बिना भारत चल ही नहीं सकता। लेकिन मैं उन्हें बताना चाहता हूं वह या मैं रहे या ना रहे, भारत जिंदा रहेगा और आगे बढ़ता रहेगा।’ (एजेंसी इनपुट)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App