ताज़ा खबर
 

सदगुरु से पूछा कश्मीरी को जीप से बांधना सही था? जवाब सुन सभी करने लगे तारीफ

जग्गी वासुदेव (सदगुरु) से एक शख्स ने ट्विटर पर मेजर लीतुल गोगोई द्वारा कश्मीरी शख्स को जीप पर बांधने वाले फैसले पर राय पूछी।

जग्गी वासुदेव नदियों को बचाने की मुहिम से जुड़े हुए हैं।

जग्गी वासुदेव (सदगुरु) से एक शख्स ने ट्विटर पर मेजर लीतुल गोगोई द्वारा कश्मीरी शख्स को जीप पर बांधने वाले फैसले पर राय पूछी। इसपर सदगुरु ने कहा, ‘रणभूमि में जो निर्णय लिए जाते हैं उनको उन्हीं पर छोड़ देना चाहिए, क्योंकि वही शख्स वहां बुलेट का सामना कर रहा होता है ना कि हम और ना हीं आप।’ जग्गी वासुदेव का यह ट्वीट लोगों को काफी पसंद आया। 15 सितंबर को किए गए ट्वीट को काफी लोगों ने पसंद किया और कई ने रीट्वीट किया। सदगुरु से यह सवाल #AskSadhguru हैशटैग के साथ पूछा गया था। इसमें सदगुरु से लोगों ने कई सारे सवाल किए थे।

ईशा फाउंडेशन के कर्ता-धर्ता जग्गी वासुदेव के ट्वीट पर लोगों ने लिखा कि लीतुल गोगोई ने ठीक किया। कई लोगों ने लिखा कि जग्गी वासुदेव ने काफी अच्छा ट्वीट किया है। एक ने पूछा था कि अपने पार्टनर के साथ बिना किसी लड़ाई झगड़े के कैसे रहा जा सकता है? इसपर जग्गी ने लिखा कि एक दूसरे से ज्यादा की उम्मीद नहीं करनी चाहिए। इससे अपने आप में खुश रहें और सब ठीक हो जाएगा। जग्गी इन दिनों नदियों को बचाने की मुहिम से जुड़े हुए हैं। लोगों को उनका काफी सपोर्ट मिल रहा है।

लीतुल गोगोई वाले जिस मामले पर जग्गी वासुदेव ने ट्वीट किया वह काफी विवादित रहा है। दरअसल, कथित रूप से पत्थरबाजी से बचने के लिए सेना ने एक कश्मीरी शख्स को अपनी जीप के आगे बांधकर घुमाया था। इसपर लोगों ने मिली-जुली प्रतिक्रिया दी थी। उस शख्स को भी पत्थरबाज बताया गया था। लेकिन उस शख्स ने मीडिया के सामने आकर कहा था कि उसे रास्ते से उठा लिया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 एक्टिविस्ट शेहला रशीद ने बुलेट ट्रेन के जरिए बीजेपी पर किया हमला, होने लगीं ट्रोल
2 जापानी पीएम शिंजो आबे के स्वागत में तिरंगे से ऊपर लगा दिया बीजेपी का झंडा, सोशल मीडिया पर निकला लोगों का गुस्सा
3 बुलेट ट्रेन पर संबित पात्रा से भिड़ गए संजय निरुपम, बोले- जैसा तड़ीपार अध्यक्ष वैसा तड़ीपार और बद्तमीज प्रवक्ता
ये पढ़ा क्या?
X