ताज़ा खबर
 

VIDEO: टीवी डिबेट में मुस्लिम विद्वान ने कहा ‘मोदी के दलाल’ तो भड़की एंकर, शो से किया बाहर

गुस्साई एंकर ने शर्फुद्दीन को खूब फटकार लगाई। उनसे तुरंत शो छोड़कर जाने को कह दिया। एंकर ने कहा, 'खबरदार... अब बहुत हो गया। खड़े होकर फौरन यहां चले जाइए। आपको लगता है कि आप यहां कुछ भी बकवास करेंगे और मैं आपको बैठकर सुनती रहूंगी।'

इस्लामिक स्कॉलर इलियास शर्फुद्दीन (फोटो सोर्स वीडियो स्क्रीन शॉट)

चुनाव आयोग द्वारा लोकसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद सोशल मीडिया में कुछ लोगों ने ऐतराज जताया कि मतदान रमजान के महीने ना हों, इससे मुस्लिम समाज कम तादाद में वोट करने घर से बाहर निकलेगा। इसपर चुनाव आयोग ने रमजान के महीने में चुनाव कराने के फैसले पर उठ रहे सवालों को नकारते हुए कहा कि चुनाव कार्यक्रम में मुख्य त्योहार और शुक्रवार का ध्यान रखा गया है। इस मामले में आयोग की ओर से सोमवार (11 मार्च, 2019) को जारी प्रतिक्रिया में कहा गया है कि रमजान के दौरान पूरे महीने के लिए चुनाव प्रक्रिया को रोका नहीं जा सकता। आयोग ने स्पष्ट किया कि इस दौरान ईद के मुख्य त्योहार और शुक्रवार का ध्यान रखा गया है।

बता दें कि रमजान के महीने में मतदान कराने पर विभिन्न पार्टियों के नेताओं ने भी एतराज जताया। धार्मिक गुरुओं ने मतदान की तारीखों के खिलाफ अपनी मंशा जाहिर की। रमजान के महीने में चुनाव हो या नहीं इसपर मुख्यधारा की मीडिया में कई डिबेट हुईं। हालांकि एपीबी न्यूज की टीवी एंकर रुबिका लियाकत और इस्लामिक स्कॉलर इलियास शर्फुद्दीन के इस मुद्दे पर तीखी बहस हुई। इस्लामिक विद्वान के बेतुके बयान से गुस्साई एंकर ने उन्हें शो से बाहर जाने तक के लिए कहा दिया।

दरअसल एंकर रुबिका लियाकत ने सवाल पूछा कि मुस्लिम समाज कब तक किसी का वोट बैंक बना रहेगा? इसके जवाब में इलियास शर्फुद्दीन ने कहा, ‘जवान, किसान और मुसलमान का लिहाज ना मोदी को है ना ही मोदी के दलाल मीडिया को है। मोदी को ना सीआरपीएफ के जवानों का लिहाज है।’ इससे गुस्साई एंकर ने शर्फुद्दीन को खूब फटकार लगाई। उनसे तुरंत शो छोड़कर जाने को कह दिया। एंकर ने कहा, ‘खबरदार… अब बहुत हो गया। खड़े होकर फौरन यहां चले जाइए। आपको लगता है कि आप यहां कुछ भी बकवास करेंगे और मैं आपको बैठकर सुनती रहूंगी।’

यहां देखें वीडियो-

जानना चाहिए कि आप और तृणमूल कांग्रेस के नेताओं ने रमजान के दौरान चुनाव कराने को लेकर आयोग की मंशा पर सवाल उठाते हुए जानबूझ कर ऐसा चुनाव कार्यक्रम बनाने का आरोप लगाया। चुनाव कार्यक्रम घोषित किए जाने के बाद ‘आप’ विधायक अमानतुल्लाह खान ने कहा था ‘‘12 मई का दिन होगा दिल्ली में रमजान होगा मुसलमान वोट कम करेगा इसका सीधा फायदा भाजपा को होगा।’’ (एजेंसी इनपुट)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App