‘यादव जी फाड़ देब’ – बीजेपी नेता ने दरोगा को दी धमकी, वीडियो वायरल

यूपी के चंदौली जिले से एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें एक बीजेपी नेता दरोगा को धमकाते हुए फाड़ देने की धमकी दे रहा है।

Uttar Pradesh, Yogi Adityanath
'यादव जी फाड़ देब' – BJP नेता ने दरोगा को दी धमकी, वीडियो वायरल (फोटो सोर्स – पीटीआई)


यूपी के चंदौली जिले से एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसने देखा जा सकता है कि एक युवक दरोगा को धमकी देते हुए कह रहा है, यादव जी फाड़ देब। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक धमकी देने वाला युवक बीजेपी नेता है। वहीं अभी बताया जा रहा है कि जब युवक दरोगा को धमकी दे रहा था तो उस समय वहां पर बीजेपी जिला अध्यक्ष भी मौजूद थे। वह युवक को डांटते हुए नजर आ रहे हैं।

इस वीडियो को शेयर करते हुए तमाम सोशल मीडिया यूजर्स अपना गुस्सा जाहिर कर रहे हैं। अनिल यादव नाम के एक टि्वटर यूजर ने यह वीडियो शेयर करते हुए लिखा है कि वाह नेताजी वाह… आप ही बताएं दरोगा जी को फाड़ने की धमकी देने वाले की जगह जेल में होनी चाहिए या रेल में? एक ट्विटर यूजर इस वीडियो पर कमेंट करते हैं कि लाचार व्यवस्था और हर तरफ अपराध… कैसे जी रहा है उत्तर प्रदेश?

@Sgarique2323 टि्वटर अकाउंट से इसे शर्मनाक घटना बताते हुए लिखा गया, ऐसा लगता है इन्हीं की अदालत चल रही है और इन्हीं का कानून है। ट्विटर यूजर लिखते हैं कि सत्ता का नशा है जो वर्दी का भी सम्मान नहीं करते, आम आदमी को क्या ही समझते होंगे ये महाशय? @Yarimardan786 से लिखा गया क्या यह योगी जी का राम राज्य है?

एक ट्विटर अकाउंट से लिखा गया कि सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य आप तो कहते फिरते हैं कि गुंडे उत्तर प्रदेश से भाग गए हैं, जरा यह देख लीजिए जनता सब देख रही है। @drkumarpnch टि्वटर हैंडल से सवाल पूछा गया कि भाजपा अपने गुंडा कार्यकर्ता पर क्या कार्रवाई करेगी? एक ट्विटर यूजर लिखते हैं कि योगी जी आप के राज में यह क्या चल रहा है? गुंडे बदले हैं, गुंडागर्दी बरकरार है।

जानकारी के मुताबिक दरोगा को धमकी देने वाले युवक का नाम विशाल मद्धेशिया है। वहीं उत्तर प्रदेश पुलिस की ओर से इस मामले में कहा गया है कि चंदौली पुलिस के थाना सैयदराजा पर नियुक्त उपनिरीक्षक के साथ अभद्र व्यवहार व टिप्पणी करने वाले व्यक्ति के विरुद्ध सुसंगत धाराओं में अभियोग पंजीकृत कर गिरफ्तार कर लिया गया है तथा अन्य आवश्यक विधिक कार्रवाई प्रचलित है।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट