scorecardresearch

Gujarat Election: हिंदू एक शादी करेगा तो बाकी धर्म के लोगों को भी एक ही शादी करनी होगी- बोले हेमंत बिस्वा सरमा तो यूजर्स करने लगे ऐसी टिप्पणी

Gujarat Election : गुजरात में चुनाव प्रचार करने पहुंचे असम सीएम ने कहा कि युनिफोर्म सिविल कोड सिर्फ बीजेपी ला सकती है।

Gujarat Election: हिंदू एक शादी करेगा तो बाकी धर्म के लोगों को भी एक ही शादी करनी होगी- बोले हेमंत बिस्वा सरमा तो यूजर्स करने लगे ऐसी टिप्पणी
असम के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा सरमा (Photo- File)

असम सीएम हिमत बिस्वा सरमा (Himanta Biswa Sarma) अक्सर अपने बयानों को लेकर वह मीडिया की सुर्ख़ियों में रहते है। पिछले दिनों वह दिल्ली में एमसीडी (Delhi MCD Election) चुनाव में प्रचार के लिए पहुंचे थे, तब उन्होंने कहा था कि देश को आफताब नहीं बल्कि लव जिहाद (Love Jihad) के खिलाफ कानून चाहिए। अब असम सीएम हिमंत बिस्वा सरमा का गुजरात विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान कहा है कि हिंदू एक शादी करेगा तो बाकी धर्म के लोगों को भी एक ही शादी करनी होगी।

गुजरात विधानसभा में क्या बोले असम सीएम

हेमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि लोग तीन-तीन, चार-चार शादियां कर लेते हैं। देश में अगर हिंदू एक शादी करता है तो बाकी धर्म के लोगों को भी एक ही शादी करना पड़ेगा। कैसे तीन-तीन शादियां कर लेंगे? उन्होंने कहा कि इसीलिए हम कहते हैं कि देश को युनिफोर्म सिविल कोड (Uniform Civil Code) की जरूरत है। महिलाओं का सम्मान होना चाहिए, बेटा और बेटी को एक समान अधिकार मिलना चाहिए।

कोई और नहीं ला सकता युनिफोर्म सिविल कोड

हेमंत बिस्वा सरमा (Himanta Biswa Sarma in Gujarat) ने कहा कि आज देश को युनिफोर्म सिविल कोड चाहिए, ये बिल कौन ला सकता है? ये बिल सिर्फ और सिर्फ बीजेपी ही ला सकती है। कांग्रेस या अन्य कोई भी इस बिल को लेकर नहीं आएगा। कांग्रेस ने कभी भी नारियों का सम्मान नहीं किया और आगे भी चलाकर वह कभी नारियों का सम्मान नहीं करेगी। हेमंत बिस्वा सरमा के इस बयान पर सोशल मीडिया पर लोग अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।

@askrajeshsahu यूजर ने लिखा कि मनोज तिवारी जी को ताना मार रहे हैं। @ratnakarrajnish यूजर ने लिखा कि कितने प्रतिशत पुरुष आबादी वधु नहीं मिलने के कारण कुंवारे रह जाते हैं और कितने प्रतिशत मुस्लिम युवक एक से अधिक विवाह करते हैं, इसका आंकड़ा आपके पास है क्या? गद्दी मिली है तो अपना ध्यान विकास और सुचारू रुप से राजकाज चलाने में लगायें! @Gyanpra65533145 यूजर ने लिखा कि बीजेपी हिंदू मुस्लिम के शिवा कोई भाषण कर ही नहीं सकते, इसमें बताने की जरूरत क्या है कानून लाओ।

@PradeepRajSing6 यूजर ने लिखा कि शादी, बच्चे, हिन्दू, मुसलमान, मंदिर के अलावा इतने वर्षों में क्या विकास किया? मंहगाई, बेरोजगारी, पेट्रोल डीजल व गैस सिलेंडर के बढ़ते दाम, आर्थिक मंदी पर कोई भाषण क्यों नहीं दे रहा है! एक यूजर ने लिखा कि कल को कहेंगे कि संघ के लोग शादी नहीं करते तो कोई शादी ही ना करे! @Sanjeev94712567 यूजर ने लिखा कि इसमें गलत क्या है? एक देश में एक कानून होना चाहिए। हमारे पुराने नेता जो गलतियां कर चुके हैं, उनमें सुधार की आवश्यकता है। देश एकता अखंडता और विकास के लिए लिए यह बहुत जरूरी है। जो लोग कॉमन सिविल कोर्ट का विरोध कर रहे हैं, वह देश की नहीं बल्कि केवल अपने वोट की सोच रहे हैं।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 23-11-2022 at 06:22:04 pm
अपडेट