गुजरात सीएम बदलने पर हार्दिक का तंज- संघ के सर्वे में थी हार की आशंका, सुधांशु करने लगे कर्म, जन्म की बात

हार्दिक कहा कि आरएसएस और बीजेपी के सर्वे में कांग्रेस जीत रही, इसलिए विजय रुपाणी का इस्तीफा लिया गया। मुख्यमंत्री का इस्तीफा गुजरात की जनता को गुमराह करने के लिए लिया गया फैसला है।

AAJTAK, TV DEBATE, HARDIK PATEL, BJP
हार्दिक ने कहा कि गुजरात का सीएम दिल्‍ली से कंट्रोल होता है। (फोटोः एजेंसी)

गुजरात में सीएम के बदलाव पर कांग्रेस के कार्यकारी अध्‍यक्ष हार्दिक पटेल ने कहा कि मुख्‍यमंत्री बदलने के पीछे बीजेपी और आरएसएस का गुप्‍त सर्वे है। इस सर्वे में बीजेपी को हारता हुआ दिखाया गया है। अगले साल चुनावों में कांग्रेस की सरकार बनने जा रही है। बीजेपी के सांसद सुधांशू ने जन्म और कर्म का जिक्र कर कांग्रेस पर तीखा पलटवार किया।

आज तक पर डिबेट में उन्होंने कहा कि बीजेपी ने सिर्फ मुख्यमंत्री बदला है, लेकिन गुजरात के साढ़े छह करोड़ लोगों ने सरकार बदलने का मूड बना लिया है। पटेल ने कहा कि पिछले कई सालों से बीजेपी सरकार की नीतियों के कारण गुजरात के लोग दुखी और परेशान हैं। लाखों नौजवान बेरोजगार हो गए हैं, लाखों परिवार बेघर हो गए हैं। महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सब कोई चिंतित हैं। गांव और किसान बर्बाद हो गए हैं। ऐसे समय में मुख्‍यमंत्री का बदलना ही बड़ी बात नहीं है, जनता सरकार बदलना चाहती है।

हार्दिक ने कहा कि गुजरात का सीएम दिल्‍ली से कंट्रोल होता है। पहले के सीएम भी ऐसे थे और अब जो नए बने हैं, वह भी दिल्‍ली के इशारे पर काम करेंगे। बीजेपी के सीएम को फ्री हैंड नहीं है। हार्दिक कहा कि आरएसएस और बीजेपी के सर्वे में कांग्रेस जीत रही, इसलिए विजय रुपाणी का इस्तीफा लिया गया। मुख्यमंत्री का इस्तीफा गुजरात की जनता को गुमराह करने के लिए लिया गया फैसला है। लेकिन असली परिवर्तन अगले वर्ष चुनावों के बाद आएगा, जब जनता बीजेपी को सत्ता से उखाड़ फेकेंगी।

एंकर ने हार्दिक के जवाब पर बीजेपी सांसद सुधांशु त्रिवेदी से जवाब मांगा तो उन्होंने जन्म और कर्म के जरिए कांग्रेस पर तंज कसा। उनका कहना था कि बीजेपी में हर कार्यकर्ता का सम्मान किया जाता है। यही वजह है कि पहली बार बने एमएलए पर भी नेतृत्व ने यकीन दिखाया है। इससे साफ होता है कि बीजेपी में लोकतंत्र किस कदर सक्षम है। जबकि कांग्रेस में कुछ मुट्ठी भर नेता एक परिवार के इशारे पर काम करते हैं।

गौरतलब है कि विजय रूपाणी के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद गुजरात में सियासी संकट को सुलझाने के लिए रविवार को विधायक दल की बैठक हुई। इसमें राज्य के नए मुख्यमंत्री के नाम का फैसला भी हो गया। गुजरात के अगले मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल होंगे। पर्यवेक्षक और केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने मीडिया के सामने उनके नाम का एलान करते हुए कहा कि आजहुई बैठक में पटेल को विधायक दल का नेता चुना गया है।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।