ताज़ा खबर
 
title-bar

गुजरात हिंसा पर टीवी डिबेट में बोले हार्दिक पटेल- बीजेपी 7 दिन से क्‍या डमरू बजा रही थी?

हिंसा भड़काने के आरोप पर पटेल ने कहा, अगर अल्पेश ठाकोर ने ऐसा किया है तो सरकार क्या बीते 7 दिन से डमरू बजा रही है। जबकि हमने उत्तर भारतीयों को बचाने के लिए एक हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है।

गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल। फोटो सोर्स : Indian Express

गुजरात में बिगड़ती स्थिति पर पाटीदार नेता हार्दिक पटेल का बयान आया है। राज्य में रह रहे यूपी, बिहार और एमपी के लोगों को जबरन पलायन करने पर मजबूर किए जाने पर हार्दिक पटेल ने सीधा बीजेपी सरकार पर हमला बोला है। एक निजी टीवी पर डिबेट के दौरान बीजेपी के लगाए आरोप पर कहा, अगर सरकार जानती है कि स्थिति किसने बिगाड़ी है तो सरकार क्या बीते 7 दिन से डमरू बजा रही है। बहस में बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा भी पहुंचे हुए थे।

पीएम मोदी के गृह राज्य में कई दिनों से हिंदी भाषियों के खिलाफ छिड़ी लड़ाई पर बीजेपी ने कांग्रेस और स्थानीय नेता अल्पेश ठाकोर पर आरोप लगाए हैं। इसी मुद्दे पर टीवी शो पर बहस करने पहुंचे भाजपा प्रवक्ता पात्रा और हार्दिक पटेल का आमना सामना हो गया। बीजेपी की तरफ से पात्रा ने गुजरात की बिगड़ी स्थिति सफाई देते हुए कहा, “मामले में 300 से अधिक लोगों की गिरफ्तारी हुई है। कांग्रेस के कई नेता गिरफ्तार हुए हैं। अल्पेश ठाकोर ने स्थानीय लोगों को भड़काया है।”

पात्रा के आरोपों का जबाव देते हुए हार्दिक पटेल ने कहा, “गुजरात बीते कई दिनों से सुलग रहा है। इसके लिए बीजेपी कोई प्रयास नहीं कर रही है। उत्तर भारतीय लोग राज्य छोड़कर जा रहे हैं। जबकि सब जानते हैं कि, यहां की फैक्ट्रियां उनपर निर्भर हैं। एक आदमी की सजा सभी को नहीं दी जा सकती। सरकार लोगों को पलायन करने से नहीं रोक पा रही है। हिंसा भड़काने के आरोप पर पटेल ने कहा, अगर अल्पेश ठाकोर ने ऐसा किया है तो सरकार क्या बीते 7 दिन से डमरू बजा रही है। जबकि हमने उत्तर भारतीयों को बचाने के लिए एक हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है।”

बता दें कि, पाटीदार नेता हार्दिक ने राज्य में हिंदी भाषियों को बचाने के लिए एक हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है। पटेल ने नंबर जारी करते हुए कहा, अगर यूपी, बिहार के किसी भी व्यक्ति को कोई धमकी देता है तो वह 9978520793 पर कॉल कर सकते हैं। उनकी सुरक्षा के जरूरी कदम तुरंत उठाए जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App