ताज़ा खबर
 

राणा अयूब ने पोस्ट की इस्तांबुल की फोटो, टि्वटर यूजर्स बोले-अब वापस मत आना

कई ट्विटर यूजर्स ने राणा अयूब की हालिया किताब गुजरात फाइल्स पर भी तंज किया है।

पत्रकार राणा अयूब की फाइल फोटो (Photo Source: Twitter Account)

पत्रकार राणा अयूब ने रविवार (22 अक्टूबर) को ट्विटर पर एक तस्वीर शेयर करके लिखा, “सलाम इस्तांबुल” तो कुछ ट्विटर यूजर्स ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया। @i_upasana ट्विटर हैंडल से एक यूजर ने जवाबी ट्वीट किया, “तुम्हारी याद तो बहुत आएगी, कृपया वापस मत आना।” इसके बाद तो कई यूजर्स ने राणा अयूब को यही सलाह देनी शुरू कर दी। पत्रकार राणा अयूब बीजेपी, नरेंद्र मोदी और अमित शाह की आलोचना के लिए ट्विटर पर कई बार ट्रोल हो चुकी हैं। राणा अयूब ने हाल ही में गुजरात फाइल्स नामक किताब प्रकाशित की है। अयूब ने किताब में दावा किया है कि वो मैथिली त्यागी नामक पत्रकार के भेष में गुजरात में कई महीनों तक रही थीं और  उन्होंने गुजरात दंगों से जुड़े कई लोगों का स्टिंग ऑपरेशन किया था।

राणा अयूब द्वारा शेयर की गई तस्वीर पर @champ_nikk  ट्विटर हैंडल से एक यूजर ने कमेंट किया, “थैंक यू, अब वहीं रहना।” @goldenthrust नामक यूजर ने ट्वीट किया “वापस नहीं आना बीबी।” @vivekmeh हैंडल से कमेंट किया गया, “तुर्की से आतंकवाद से जुड़ी खबर का इंतजार रहेगा।” @INDpheobebuffay हैंडल से यूजर ने लिखा, “ऐसा क्या हो गया इंडिया छोड़ कर चली गी तुम बीबी।” कुछ यूजर ने राणा अयूब की हालिया किताब गुजरात फाइल्स को भी निशाने पर लिया। कुछ यूजर ने राणा अयूब पर तंज किया है कि इस किताब को कोई नहीं खरीद रहा है। हालांकि मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इस किताब की 30 हजार से ज्यादा प्रतियां बिकी हैं।

rana ayyub राणा अयूब का ट्विट जिस पर उन्हें ट्रोल किया जा रहा है। (तस्वीर- राणा अयूब का ट्विटर अकाउंट)

गुजरात फाइल्स में राणा अयूब ने साल 2010 और 2011 के बीच करीब आठ महीनों तक गुजरात में अमेरिकी फिल्म छात्रा बनकर रहने का दावा किया है। राणा अयूब उस समय तहलका पत्रिका के लिए काम कर रही थीं। राणा अयूब ने दावा किया कि कई प्रमुख प्रकाशकों ने उनकी किताब छापने से इनकार कर दिया था। राणा अयूब ने ये किताब खुद प्रकाशति की। राणा अयूब ने दावा किया था कि तहलका पत्रिका ने राजनीतिक दबाव के चलते उनके स्टिंग ऑपरेशन पर आधारित रिपोर्ट प्रकाशित नहीं की थी। हालांकि तहलका की पूर्व प्रबंध संपादक शोमा चौधरी ने राणा अयूब के लगाए आरोपों के इनकार करते हुआ कहा था कि उनकी रिपोर्ट में कई तकनीकी खामियां थीं इसलिए उसे प्रकाशित नहीं किया जा सका था।

rana ayyub राणा अयूब के ट्विटर पर आए कमेंट। rana ayyub राणा अयूब के ट्विटर पर आए कमेंट।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App