scorecardresearch

गौतम अडानी को मिली जेड कैटेगरी की सुरक्षा, यूजर्स पूछने लगे ऐसे सवाल

गौतम अडानी को जेड कैटेगरी की सुरक्षा मिलने पर कुछ सोशल मीडिया यूजर्स ने कश्मीरी पंडितों को लेकर सवाल उठाया है।

गौतम अडानी को मिली जेड कैटेगरी की सुरक्षा, यूजर्स पूछने लगे ऐसे सवाल
गौतम अडानी (फोटो: पीटीआई)

एशिया के सबसे अमीर शख्स गौतम अडानी (Gautam Adani) को केंद्र सरकार द्वारा जेड कैटेगरी की सुरक्षा दी है। न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के अनुसार गृह मंत्रालय ने गौतम अडानी को सुरक्षा दे दी है, हालांकि कहा जा रहा है कि इसका खर्च वह स्वयं निर्वहन करेंगे। इस खबर को लेकर सोशल मीडिया पर कई तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही है। कुछ लोगों ने केंद्र सरकार से तंज कसते हुए पूछा है कि इसका खर्चा कौन देगा?

सोशल मीडिया पर लोगों के रिएक्शन

आम आदमी पार्टी के विधायक नरेश बालियान ने इस खबर पर लिखा कि रोहित जी आपको मोदी सरकार सुरक्षा दे सकती है तो इन्हें क्यों नहीं? ये तो अपने देश के हैं। सिद्धार्थ नाम के एक यूजर ने लिखा – दोस्तवाद। सुमित नाम के एक ट्विटर यूजर तंज कसते हुए लिखते हैं, ‘ सरकार तो इनकी ही चल रही है, फिर चाहे जेड सिक्योरिटी मिले या फिर ए प्लस सिक्योरिटी। निलेश कुमार नाम के एक यूजर ने लिखा कि सुरक्षा कश्मीरी पंडितों को मिलनी चाहिए और मोदी जी अपने दोस्तों को सुरक्षा रेवड़ी की तरह बांट रहे हैं।

सुनील अरोड़ा नाम के एक ट्विटर यूजर लिखते हैं – वाह मोदी जी वाह, गजब का मास्टर स्ट्रोक है। गजेंद्र भारद्वाज कमेंट करते हैं कि दोस्तवाद का एक और उदाहरण। आकांक्षा नाम की एक ट्विटर यूजर कमेंट करती हैं, ‘देना भी चाहिए था क्योंकि इनके भरोसे ही तो मोदी सरकार चल रही है।’ अनमोल नाम के एक ट्विटर यूजर लिखते हैं कि राष्ट्रपति भवन ही क्यों नहीं उनको दे दिया जाता है?

सिमरन नाम की एक यूजर कमेंट करती हैं कि काश कश्मीरी पंडितों को भी इसी तरह की सुरक्षा दे दी जाती। फरहान नाम के एक ट्विटर यूजर ने लिखा, ‘अच्छे दिन अडानी के लिए रोज ही आते जा रहे हैं।’ अभिनव त्रिपाठी नाम के एक यूजर ने लिखा कि अगर वह अपने खर्च पर जेड प्लस सुरक्षा पा रहे हैं तो इसमें किसी और को क्या दिक्कत हो रही है? शुभम पांडे नाम के एक यूजर लिखते हैं, ‘एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति हैं, अगर उन्हें वीआईपी सुरक्षा मिल रही है तो किसी को इतनी दिक्कत हो रही है?’

मुकेश अंबानी को भी मिल चुकी है जेड प्लस सुरक्षा

इससे पहले उद्योगपति मुकेश अंबानी और उनकी पत्नी नीता अंबानी को भी गृह मंत्रालय ने केंद्रीय सुरक्षा दे रखी है। मुकेश अंबानी और नीता अंबानी प्रतिमा अपनी सुरक्षा में खर्च हुई रकम को भरते हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मुकेश अंबानी को पेमेंट बेस पर केंद्र सरकार की ओर से वीआईपी सुरक्षा मिली है। इसी तरह की सुरक्षा गौतम अडानी को भी दिखाई है, वह भी केंद्र सरकार को अपना खर्चा देंगे।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट