ताज़ा खबर
 

गौरी लंकेश हत्‍या: स्‍मृति ईरानी के ट्वीट पर भड़के लोग, पूछा- क्‍या आप इसे लोकतंत्र कहेंगी?

Journalist, Gauri Lankesh Murder: एक यूजर ने पूछा कि 'क्‍या CBI के पास AAP और NDTV की जांच के बाद खाली समय है?'

केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (फोटो सोर्स पीटीआई)

वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की मंगलवार रात यहां गोली मारकर हत्या कर दी गई। पुलिस उपायुक्त (पश्चिम) एम एन अनुचेत ने कहा कि राज राजेश्वरी इलाके में उनके आवास पर उनकी गोली मारकर हत्या कर दी गई। गौरी लंकेश के दक्षिण पंथी संगठनों से वैचारिक मतभेद थे। गौरी लोकप्रिय कन्नड़ टेबलॉयड ‘लंकेश पत्रिका’ की संपादक थीं। नवंबर, 2016 में उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के खिलाफ एक रिपोर्ट प्रकाशित की थी, जिस कारण उनके खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर किया गया। इस मामले में उन्हें छह माह जेल की सजा हुई थी। गौरी लंकेश ही हत्‍या की कई बुद्धिजीवियों ने निंदा की है। सरकार की तरफ से कैबिनेट मंत्री राज्यवर्द्धन सिंह राठौड़ ने कहा कि वह पत्रकारों के खिलाफ किसी भी तरह की हिंसा का विरोध करते हैं। वहीं कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी वरिष्ठ कन्नड़ पत्रकार की हत्या की निंदा की और कहा कि सच को कभी दबाया नहीं जा सकता। केंद्रीय खेल राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) राठौड़ ने ट्वीट किया, ‘‘बेंगलुरू से गौरी लोकेश की जघन्य हत्या की खबर है। मैं पत्रकारों के खिलाफ हिंसा की निंदा करता हूं।’’ राहुल ने ट्वीट किया, ‘‘सच को कभी दबाया नहीं जा सकता। गौरी लंकेश हमारे दिलों में बसती हैं। मेरी संवेदनांए और प्यार उनके परिवार के साथ। दोषियों को सजा मिलनी चाहिए।’’ कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल, केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी महिला पत्रकार की हत्या पर शोक व्यक्त किया। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने ट्वीट किया, ‘‘गौरी एक तर्कशील थीं जिन्हें गोलियों से शांत करा दिया गया। उनकी हत्या उन लोगों को चुप कराने का प्रयास है जो विपरीत विचार रखते हैं। दुर्भाग्यपूर्ण है।’’

केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी ने भी गौरी लंकेश की हत्‍या की निंदा करते हुए ट्वीट किया। उन्‍होंने लिखा, ”वरिष्‍ठ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्‍या की निंदा करती हूं। उम्‍मीद है कि त्‍वरित जांच कर न्‍याय दिया जाएगा। परिवार के प्रति संवेदनाएं।” हालांकि लंकेश की हत्‍या के लिए दक्षिणपंथी संगठनों को जिम्‍मेदार ठहरा रहे लोगों ने ईरानी को घेर लिया। एक यूजर ने पूछा कि क्‍या वे इसे ‘लोकतंत्र’ कहेंगी? महेंद्र यादव ने कटाक्ष करते हुए कहा, ”अगर सीबीआई के पास आम आदमी पार्टी और एनडीटीवी की जांच करने से समय बचे तो इसकी जांच भी की जा सकती है।” तरुण व्‍यास ने कहा, ”मैडम काहे फालतू में दिल पर पत्थर रख ये ट्वीट किया? हमारे मोदी काका जिन लोगो को फॉलो करते है वो तो जश्न मना रहे थे ऐसी घटना का।”

देखें लोगों के ट्वीट्स:

केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने पत्रकार की हत्या पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट में कहा, ‘‘उनकी हत्या की खबर ‘‘स्तब्ध’’ कर देने वाली है।’’ केरल विधानसभा में विपक्ष के नेता रमेश चेन्नीथाला और केरल यूनियन ऑफ र्विकंग जर्नलिस्ट ने भी वरिष्ठ पत्रकार की हत्या पर शोक व्यक्त किया। वहीं दिल्ली में प्रेस क्लब आॅफ इंडिया और विमन्स प्रेस क्लब (आई डब्ल्यू पी सी) ने वरिष्ठ पत्रकार गौरी की हत्या की कड़े शब्दों में ंिनदा की है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पत्रकार हत्या मामले को ‘‘बेहद दुर्भाग्यपूर्ण’’ और ‘‘खतरनाक’’ करार दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App