ताज़ा खबर
 

शहला राशिद का हमला- रेप की धमकी देने वाले ABVP का झंडा थामते हैं अक्षय कुमार

दरअस जिस तस्वीर को अक्षय ने ट्विटर पर शेयर किया इसमें उन्होंने लिखा , 'ये महिलाएं ‘महिला सशक्त‍ीकरण’ को आगे बढ़ा रही हैं, साथ ही टैक्स फ्री सेनिटरी पैड के लिए दौड़ रही हैं।'

Author January 23, 2018 12:43 PM

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) की पूर्व उपाध्यक्ष शहला राशिद ने एक ट्वीट के जरिए बॉलीवुड खिलाड़ी अक्षय कुमार पर निशाना साधा है। ट्वीट में उन्होंने कथित तौर पर रेप की धमकी वाले छात्र संगठन एबीपीवी का झंडा थामने पर उन्हें लताड़ भी लगाई है। दरअसल अक्षय कुमार अपनी अपकमिंग फिल्म ‘पैडमैन’ के प्रमोशन के लिए सोमवार (22 जनवरी, 2017) को दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) पहुंचे थे। जहां उन्होंने महिला वुमन मैराथन का समर्थन किया। इसके बाद एक तस्वीर भी उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर की, जिसमें वह एबीवीपी का झंडा हाथ में थामे हुए दिखाई दे रहे हैं। बॉलीवुड एक्टर की इसी तस्वीर के वायरल होने पर शहला राशिद ने ट्वीट किया है।

इसमें उन्होंने लिखा, ‘अक्षय कुमार एक कनेडियन नागरिक है। कनाडा में, अल्पसंख्यों के सदस्य हैं। अक्षय कुमार जैसे पूर्ण नागरिकता, राजनीतिक और सांस्कृतिक अधिकारों का आनंद लेते हैं। घर आने पर वह आएसएस की छात्र इकाई का झंडा थामते हैं जो अल्पसंख्यकों को मिटा देना चाहती है, जो महिलाओं को बलात्कार की धमकी देते हैं। वहीं अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि अक्षय कुमार को आरएसएस के बारे में जानकारी होनी चाहिए। आरएसएस-एबीवीपी सांस्कृतिक आतंकवाद में व्यस्त रहता है। ट्वीट में आगे लिखा गया कि वो महिलाओं की पसंद पर हमला करते हैं। वो सेमिनारों और डिस्कशनों पर हमला करते हैं।

दूसरी तरफ अक्षय की तस्वीर वायरल होने पर ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन (आईसा) की राष्ट्रीय अक्ष्यक्ष सुचेता डे ने भी उनपर तंज कसा है। सोमवार (22 जनवरी, 2017) को ट्वीट कर उन्होंने लिखा, ‘तो अक्षय कुमार को पैडमैन के प्रोमेशन के लिए एबीवीपी का मंच सबसे उपयुक्त लगा। आपको पता नहीं है कि वो कैंपस में महिलाओं के आजादी से चुनने की पसंद के खिलाफ खड़े हैं? इस मुद्दे पर ट्विंकल खन्ना जरूर आपकी राय जानना चाहेंगी। आप स्टोरी राइटर हैं।’

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App