ताज़ा खबर
 

भारतीय सैनिकों के समर्थन में क्रिकेटर मोहम्मद कैफ के एक ट्वीट ने जीता लाखों लोगों का दिल

कैफ की ट्विटर पर की गई यह विनम्र अपील लोगों के दिल को छू गई और उन्होंने क्रिकेटर के साथ अपनी सहमती जाहिर करते हुए ऐसा करने की हामी भी भरी।
Author नई दिल्ली | October 7, 2016 15:01 pm
क्रिकेर मोहम्मद कैफ ने लोगों से ट्रेनों और बसों में अपनी सीट सैनिकों को आॅफर करने की अपील की है। (File Photo)

भारत और पाकिस्तान के बीच पिछले लगभग एक महीने से तनाव की स्थिति बनी हुई है। उरी आतंकवादी हमले में भारतीय सेना के 18 जवानों की मौत हो गई और भारत ने इस बलिदान को कभी न भूलने की कसम खाई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषणों में कई बार कहा कि उरी में शहीद हुए सैनिकों का बलिदान जाया नहीं जाने दिया जाएगा, दोषियों को इसकी सजा जरूर मिलेगी। जवाबी कार्रवाई में भारतीय सेना ने पाक अधिकृत कश्मीर में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया और आतंकवादियों के ठिकानों को बर्बाद कर दिया।

जब देश पीओके में भारतीय सेना द्वारा किए गए सर्जिकल स्ट्राइक का जश्न मना रहा है, कई परिवार ऐसे भी हैं जिनको रात में ठीक से नींद नहीं आती क्योंकि उन्हें बॉर्डर पर तैनात अपने बेटे, पति, पिता, भाई की चिंता सताती है। सर्जिकल स्ट्राइक के बाद सीमा पर तनाव काफी बढ गया है और सैनिकों को हाइएस्ट अलर्ट पर रखा गया है। पाकिस्तान की तरफ से जवाबी कार्रवाई की आशंका के बीच सरकार ने सैनिकों की छुट्टियां निरस्त कर दी हैं।

वीडियो: राहुल गांधी की विवादित टिप्‍पणी- जवानों के खून की दलाली कर रहे हैं प्रधानमंत्री

इसबीच क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने भारतीय सैनिकों के समर्थन में देशवासियों के लिए एक संदेश ट्वीट किया है। कैफ के इस एक ट्वीट ने लोगों का दिल जीत लिया है। कैफ ने लोगों से अपील करते हुए ट्वीट किया, ‘सभी जवानों की छुट्टियां निरस्त कर दी गई हैं। यदि ट्रेन या बस में आप किसी जवान को देखें और उसके पास सीट न हो तो कृपया अपनी सीट उसे दे दें।’ क्रिकेटर कैफ की ट्विटर पर की गई यह विनम्र अपील लोगों के दिल को छू गई और उन्होंने क्रिकेटर के साथ अपनी सहमती जाहिर करते हुए ऐसा करने की हामी भी भरी। कैफ के इस ट्वीट के बाद कई ट्विटर यूजर्स ने सेना के प्रति अपनी कृतज्ञता जाहिर की।

Read Also: सर्जिकल स्‍ट्राइक के सबूत मांगकर पाकिस्‍तान में हीरो बने केजरीवाल

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.