नरेंद्र मोदी का व्यक्तिगत अहंकार हुआ होगा कम- बोले किसान नेता योगेंद्र यादव, कहा – भारत बंद था ऐतिहासिक

किसान नेता योगेंद्र यादव ने किसानों द्वारा भारत बंद के आह्वान को सफल बताते हुए पीएम नरेंद्र मोदी पर तंज कसा है।

Farmer Protest, Farmer Law
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो सोर्स – पीटीआई)

भारतीय किसान यूनियन ने सोमवार को भारत बंद किया था। जिसके कारण देश के कई शहरों में जाम जैसी स्थिति का सामना करना। हरियाणा किसान रेलवे ट्रैक पर बैठे थे वहीं दिल्ली में मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने सुरक्षा कारणों से कई मेट्रो स्टेशन बंद कर दिए थे। भारत बंद सुबह 6 बजे से शुरू हुआ था और शाम 4 बजे तक जारी था। किसान नेता योगेंद्र यादव ने भारत बंद को सफल बताते हुए कहा है कि पीएम नरेंद्र मोदी का व्यक्तिगत अहंकार कम हुआ होगा।

किसान नेता योगेंद्र यादव ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि लोकतंत्र लोकलाज़ से चलता है। अगर इस सरकार में कोई भी लोक लाज बची है आज के बंद के बाद इसे किसानों के सामने आना चाहिए। किसानों से बात करनी चाहिए। उन्होंने कहा पिछले दो-तीन बार से हो रहा है, जब भी हम कोई कार्यक्रम करने जाते हैं तो कृषि मंत्री एक बहुत सुंदर सा बयान देते हैं।

किसान नेता ने कहा कि कृषि मंत्री कहते हैं कि हमारे दिल दरवाजे खुले हुए हैं, हम किसानों से बात करने के लिए तैयार हैं। मैं उनकी बात पर कहता हूं कि अगर आपके दरवाजे खुले हैं तो आप या तो अपने कोठी के दरवाजे खोल दो.. हम वहां आकर आपसे बात कर लेंगे या आप हमें विज्ञान भवन में मिलने का समय बता दीजिए। उन्होंने कहा कि सरकार को डायलॉगबाजी बंद कर देनी चाहिए।

किसान नेता ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि अगर सरकार से किसानों की बातचीत पिछले 9 महीनों से इसलिए बंद है क्योंकि इस सरकार के दिल और दिमाग बंद है। उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि, ‘ अहंकार के चलते यहां के प्रधानमंत्री की आंखें बंद हैं। किसान ने आज अपनी मुट्ठी बंद करके दिखा दिया है कि बंद आंखों को खोलने का तरीका क्या होता है।’

उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है आज के बंद से ऐसे लोगों की आंखें खुली होंगी जिनकी आंखें बंद थी। इस सरकार की आंखें खुलेगी तो किसान जीतेंगे। योगेंद्र यादव ने यह वीडियो अपने सोशल मीडिया हैंडल से शेयर करते हुए लिखा है कि आज का भारत बंद ऐतिहासिक था, हो सकता है अब प्रधानमंत्री जी का व्यक्तिगत अहंकार कुछ कम हुआ हो।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट