Farhan Akhtar’s Witty Reply To Satyapal Singh’s Remarks On Darwin’s Evolution Theory Is Epic - डार्विन थ्योरी: बीजेपी मंत्री के बयान पर एक्टर फरहान अख्तर ने ली चुटकी - Jansatta
ताज़ा खबर
 

डार्विन थ्योरी: बीजेपी मंत्री के बयान पर एक्टर फरहान अख्तर ने ली चुटकी

बीजेपी मंत्री सत्यपाल सिंह ने शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए कहा था कि पिछले हजारों लाखों वर्षों में ये बात सिद्ध हो चुकी है कि इंसान बंदर नहीं था।

फरहान अख्तर। फोटो सोर्स- यूट्यूब

केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री सत्यपाल सिंह द्वारा डार्विन की थ्योरी को गलत बताने के बाद से लगातार उनकी किरकिरी हो रही है। सोशल मीडिया पर आम से लेकर खास तक उनकी चुटकी ले रहे हैं। इसमें ताजा नाम बॉलीवुड एक्टj और प्रोड्यूसर फरहान अख्तर का जुड़ गया है। फरहान अख्तर ने इंसान के बंदर ना होने वाले मंत्री के बयान पर मजे लिये हैं। आपको बता दें कि बीजेपी मंत्री ने शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए कहा था कि पिछले हजारों लाखों वर्षों में ये बात सिद्ध हो चुकी है कि इंसान बंदर नहीं था। अपनी इस बात को पुख्ता करने के लिए सत्यपाल सिंह ने कहा था कि किसी ने भी आज तक किसी बंदर को इंसान बनते नहीं देखा है इसलिए ऐसा कहना गलत होगा कि इंसानों की उत्पत्ति बंदरों से हुई है। सत्यपाल सिंह के इस बयान पर फरहान अख्तर ने चुटकी लेते हुए एक ट्वीट किया है। इस ट्वीट में फरहान ने लिखा- ब्रेकिंग: बंदरों ने डार्विन के सिद्धांत के खिलाफ धरना शुरू कर दिया है, उन लोगों ने इंसानों की उत्पत्ति में किसी भी तरह से अपना हाथ होने से इनकार किया है।

आपको बता दें कि शुक्रवार को महाराष्ट्र के औरंगाबाद में एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह ने डार्विन के सिद्धांत पर सवाल उठाए थे। सत्यपाल सिंह ने कहा था कि, हम जब से किताबें पढ़ रहे हैं, दादा-दादी और नाना नानी से कहानी सुनते आ रहे हैं तबसे लेकर आज तक कभी किसी ने ये नहीं बताया कि उसने इंसान को जंगल में जाते देखा या फिर किसी बंदर को इंसान बनते देखा।

सत्यपाल सिंह ने कहा था कि डार्विन की ये थ्योरी जो कहती है कि इंसान की उत्पत्ति बंदर से हुई है वो सरासर गलत है। स्कूलों में इसे पढ़ाया जाता है जिसे बदलने की जरूरत है। सत्यपाल सिंह ने डार्विन थ्योरी को नकारते हुए आगे कहा कि जबसे इस धरती पर आदमी आया, शुरू से ही आदमी है और यहां आदमी ही रहेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App