ताज़ा खबर
 

इंग्लैंड में खिलाड़ियों की स्थिति देख फैन्स को आई माही की याद, कर रहे हैं टेस्ट टीम में वापसी की मांग

धोनी ने अपना आखिरी टेस्ट मैच चार साल पहले खेला था, लेकिन मौजूदा हालत को देखते हुए एक बार फिर टीम को उनकी कमी खल रही है। दरअसल, लॉर्ड्स में मिली शर्मनाक हार के बाद सोशल मीडिया पर फैन्स लगातार धोनी को टीम में वापस लाने की बात कर रहे हैं।

महेंद्र सिंह धोनी।

भारत के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड ने 2-0 से बढ़त ले ली है। इंग्लैंड की नजरें अब तीसरे मैच को जीत सीरीज अपने नाम करने की होगी। तीसरा मैच शनिवार (18 अगस्त) से खेला जाएगा। वहीं लॉर्ड्स में पारी और 159 रनों से शर्मनाक हार झेलने के बाद भारतीय टीम की कोशिश इस मैच को जीत सीरीज में बने रहने की होगी। भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने साल 2014 ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। धोनी ने अपना आखिरी टेस्ट मैच चार साल पहले खेला था, लेकिन मौजूदा हालत को देखते हुए एक बार फिर टीम को उनकी कमी खल रही है। दरअसल, लॉर्ड्स में मिली शर्मनाक हार के बाद सोशल मीडिया पर फैन्स लगातार धोनी को टीम में वापस लाने की बात कर रहे हैं। बता दें कि भारतीय टीम की बल्लेबाजी पिछले दोनों ही मुकाबलों में फ्लॉप रही है। पहले मैच के दौरान कप्तान विराट कोहली ने अकेले दम पर भारतीय टीम को मुकाबले में बनाए रखा था।

महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली।

वहीं दूसरे मैच के दौरान विराट का बल्ला भी खामोश रहा। विकेटकीपिंग में दिनेश कार्तिक ने कई मौके गंवाए और बल्लेबाजी के दौरान भी उनका बल्ला शांत रहा। बतौर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अपना आखिरी मैच मेलबर्न में खेला था। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला गया यह मैच ड्रॉ रहा था। फैन्स धोनी को एक बार फिर भारतीय टेस्ट टीम के लिए खेलते हुए देखना चाहते हैं। धोनी ने अपने टेस्ट करियर में कुल 90 मैच खेले हैं। इस दौरान उनके बल्ले से 4876 रन निकले।

सिर्फ बल्लेबाजी ही नहीं धोनी की मैदान पर मौजूदगी भी भारतीय टीम के लिए काफी फायदेमंद साबित होती रही है। वह विकेट के पीछे से पिच को बखूबी समझते हैं और गेंदबाजों को सही गेंद फेंकने की सलाह देते हैं। युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव ने कई बार अपनी कामयाबी का श्रेय धोनी को दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App