ताज़ा खबर
 

जब Twitter यूजर से सुषमा स्वराज ने पूछा- मंगल ग्रह पर भी मदद करेगा भारतीय उच्चायोग? तो विदेश मंत्री ने दिया ये जवाब

इस ट्वीट में यूजर ने सुषमा स्वराज और इसरो दोनों को टैग किया था।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (File Photo)

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ट्वीटर पर बहुत एक्टिव रहती हैं। वह लोगों की मदद के लिए हर समय तैयार रहती हैं। उनका कहना भी है कि आप भारतीय हैं और विदेश में हैं तो भारतीय दूतावास आपका दोस्त है। एक ट्विटर यूजर करन सैनी ने सुषमा स्वराज और इसरो को टैग करते हुए एक ट्वीट किया लिखा कि मैं मंगल ग्रह पर फंस गया हूं, 987 दिन पहले जो मंगलयान के द्वारा खाना भेजा गया था वह खत्म हो गया है, आप दूसरा मंगलयान कब भेजेंगी? इसके बाद सुषमा स्वराज ने इसका जवाब देते हुए लिखा कि अगर आप मंगल ग्रह पर भी फंस जाओगे, तो भी भारतीय उच्चायोग वहां पर आपकी मदद करेगा। सुषमा स्वराज का यह ट्वीट वायरल हो गया है एक ही दिन में इस पर 3,800 से ज्यादा लोगों ने रीट्वीट किया वहीं 8,000 से ज्यादा लोग इसे लाइक कर चुके हैं।

एक सिद्धार्थ नाम के यूजर ने लिखा कि मैम आप भारत रत्न के योग्य हैं। सुशील ने लिखा कि आपके अंदर काम करने की प्रतिबद्धता, ईमानदारी और सेवा करने के लिए प्रतिबद्धता है। अपने दैनिक जीवन में रोजाना कुछ नया सीखने को मिलता है। हर्ष ने लिखा कि मुझे इसपर कोई शक नहीं है। एक यूजर ने आम आदमी पार्टी का मजाक बनाते हुए लिखा कि अगर आपको कोई दिक्कत है तो आप के कार्यकर्ता से पूछ सकते हैं। वह यहां 16 मई 2014 से धरना दे रहे हैं। समीर नाम के यूजर ने कहा कि सुषमा जी आप एक अच्छी राष्ट्रपति बन सकती हैं। भारती शाही ने लिखा कि, यू आर ग्रेट, तुस्सी टॉप हो… सलामी कबूल करो, हमें हमारी एंबेसी पर गर्व है।

वहीं कुछ दिन पहले सुषमा स्वराज ने अपनी दरियादिली दिखाई थी। सुषमा का दिल इस बार एक पाकिस्तानी बच्चे के लिए पिघला था। बच्चे को भारत में इलाज के लिए आना है। एक पाकिस्तानी व्यक्ति को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने मेडिकल वीजा का भरोसा दिया है। लाहौर के रहने वाले व्यक्ति ने ट्वीट कर कहा था कि दोनों देशों के रिश्तों की सजा मेरा बेटा क्यों भुगते, जवाब दीजिये सरताज अजीज और सुषमा स्वराज मैडम। इस ट्वीट का जवाब देते हुए सुषमा स्वराज ने शख्स को ट्रीटमेंट के लिए वीजा देने का भरोसा दिया है। सुषमा ने कहा कि आप वहां पर भारतीय दूतावास में संपर्क करें, बच्चे को कोई तकलीफ नहीं होगी। हम उसे मेडिकल वीजा देंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App