ताज़ा खबर
 

टी शर्ट विवाद: BJP प्रवक्ता ने कहा- हनुमान जी की कृपा से कम्युनिस्टों की लंका जल रही है, बनाए रखिए आशीर्वाद

तजिंदर बग्गा के इस टी शर्ट पर वामपंथी नेता कविता कृष्णन ने कड़ी आपत्ति जताई थी। कविता कृष्णन ने कहा था, "ठग बीजेपी नेता बग्गा कश्मीर ह्यूमन शील्ड का टीशर्ट बेचते हैं और कहते हैं कि वह देशभक्ति को अपनी छाती पर लेकर चल रहे हैं, कोर्ट ने आर्मी मेजर के इस कृत्य का असंवैधानिक कहा है, संवैधानिक मूल्यों को तोड़कर उसका जश्न मनाना संवैधानिक है ना।"

दिल्ली बीजेपी के नेता तजिंदर बग्गा की यह टी शर्ट जम्मू-कश्मीर के एक घटनाक्रम की एक थीम पर प्रिंट की गई है।

भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता और दिल्ली बीजेपी के नेता तजिन्दर बग्गा की कंपनी द्वारा बनाये गये टी शर्ट पर थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस टी शर्ट में जम्मू कश्मीर के एक बहुचर्चित घटना का जिक्र है जिसमें पत्थरबाजों का मुकाबला करने के लिए आर्मी मेजर लीतुल तरुण गोगोई ने कश्मीर के एक शख्स फारुक अहमद डार को जीप के आगे बांध दिया था। इसी थीम पर यह टी शर्ट बनाया गया है। देश के कई नेताओं ने तजिन्दर बग्गा के इस कदम की निंदा की है। लेकिन बग्गा ने इन तमाम आलोचनाओं को खारिज कर दिया है। बग्गा ने आज ट्वीट कर कहा है कि, “हनुमान जी आपकी कृपा से कम्युनिस्टों की लंका जल रहे है। आशीर्वाद बनाये रखे। जय हनुमान।” बग्गा ने कहा, “वो पत्थर भी फेके तो चर्चा नही होती, हम टीशर्ट भी बना दे तो हो जाते है बदनाम।” बता दें कि तजिंदर बग्गा के इस टी शर्ट पर वामपंथी नेता कविता कृष्णन ने कड़ी आपत्ति जताई थी।

कविता कृष्णन ने कहा था, “ठग बीजेपी नेता बग्गा कश्मीर ह्यूमन शील्ड का टीशर्ट बेचते हैं और कहते हैं कि वह देशभक्ति को अपनी छाती पर लेकर चल रहे हैं, कोर्ट ने आर्मी मेजर के इस कृत्य का असंवैधानिक कहा है, संवैधानिक मूल्यों को तोड़कर उसका जश्न मनाना संवैधानिक है ना।” इसके जवाब में बग्गा ने कहा ,”भारत माता की नग्न तस्वीर बनाने वाले एमएफ हुसैन को फ्रीडम ऑफ आर्ट के नाम से डिफेंड करने वाले आज हमारी एक आर्ट से झल्ला गए,डर गए,रो गए,कांप गए। चिंता न करो, अभी तो ये झांकी है, अगली टीशर्ट बाकी है।” अपनी एक आलोचना के जवाब में तजिंदर बग्गा ने कहा कि उन्होंने टी ही बेची है जेहाद नहीं कर दिया है।

 

बता दें कि जम्मू कश्मीर में इस मुद्दे पर खूब विवाद हुआ था। सेना के मुताबिक पिछले साल 9 अप्रैल को कश्मीर के बड़गाम में उपचुनाव के दौरान पत्थरबाजों की एक टोली सेना के जवानों पर हमला करने वाली थी। तभी मेजर गोगोई ने फारुक अहमद डार को जीप के आगे बांध दिया था। इस घटना का वीडियो देश में वायरल हो गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App