योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर को लेकर पत्रकार दीपक चौरसिया ने किया ट्वीट, पुलिस ने करार दिया फेक न्यूज़

उनके ट्वीट पर गोरखपुर पुलिस ने रिप्लाई करते हुए लिखा कि ऐसा कोई प्रकरण गोरखपुर में जानकारी में होना नहीं आया है।

Uttar Pradesh, Yogi Adityanath
CM योगी के गढ़ गोरखपुर को लेकर पत्रकार ने किया ट्वीट, पुलिस ने करार दिया फेक न्यूज़ (Photo Source – PTI)

वरिष्ठ पत्रकार दीपक चौरसिया अपने सोशल मीडिया साइट पर काफी सक्रिय रहते हैं। उनके ट्वीट भी अक्सर ही वायरल होते देखे जाते हैं। उन्होंने सीएम योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर को लेकर एक ऐसा ट्वीट किया कि वहां की पुलिस ने उसे फेक न्यूज़ करार दिया। जिसके बाद सोशल मीडिया यूजर्स उनके पीछे पड़ गए।

दरअसल उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा कि गोरखपुर में रेड लाइट होने पर बिजली विभाग के जेई का काटा चालान, गुस्साए कर्मचारियों ने काट दी थाने और दरोगा के घर की बिजली। इसके बाद उनके ट्वीट पर गोरखपुर पुलिस ने रिप्लाई करते हुए लिखा कि ऐसा कोई प्रकरण गोरखपुर में जानकारी में होना नहीं आया है, कृपया तथ्यों की जानकारी कर और डिटेल उपलब्ध कराएं। गोरखपुर पुलिस के रिप्लाई के बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने पत्रकार दीपक चौरसिया के मजे लेने शुरू कर दिए।

एक ट्विटर यूजर दीपक चौरसिया के इस ट्वीट पर हंसने वाली इमोजी के साथ कमेंट करते हैं कि का भाई दीपक जी का हाल बा? सोचा नहीं होगा ना कि गोरखपुर की पुलिस इतनी फुर्ती से आपके ट्वीट का भांडा फोड़ देगी, यूपी पुलिस का नारा है सदैव सेवा में तत्पर तो बताइए कैसा लगा अब? @tj001010 टि्वटर हैंडल से कमेंट किया गया कि फेक न्यूज़ चलाने वाले न्यूज़ चैनलों की बिजली काट देनी चाहिए।

एक ट्विटर यूजर कहते हैं कि लिंक दो, अगर यह मजाक नहीं है तो? @A_R_Maan_1 टि्वटर हैंडल से हंसने वाली इमोजी के साथ रिएक्ट करते हुए लिखा गया कि ये तो तुरंत ही फैक्ट चेक हो गया। न्यूटन कुमार नाम के यूजर लिखते हैं कि इसे कहते हैं रंगे हाथों पकड़ना।

@Bharat_Ratan1947 टि्वटर हैंडल से लिखा गया कि दीपक चौरसिया सच बोलने से कोई दुश्मनी है क्या? जो झूठ बोलने से बाज नहीं आते। एक ट्विटर अकाउंट से कमेंट किया गया कि फेक न्यूज़ फैलाने का धंधा है इनका। @MechBoy786 से लिखा गया कि ये कौन सा नशा करते हैं? व्हाट्सएप पर आए फनी जोक्स को भी ब्रेकिंग न्यूज़ बनाकर चला देते हैं। एक टि्वटर यूजर ने इस ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए लिखा कि कितनी फेक न्यूज़ फैलाएंगे, पत्रकार हैं या मींस पेज के एडमिन?

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट