ताज़ा खबर
 

मुस्लिम महिलाएं बाल न काटें, आई-ब्रो न बनाएं: दारूल-उलूम देवबंद का फतवा

मौलाना काजमी ने कहा कि मुस्लिम महिलाओं के लिए जो दस पाबंदियां लगाई गई हैं, उनमें ये दोनों भी शामिल है।
चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रतीक के तौर पर किया गया है। (पीटीआई फाइल फोटो)

दारूल उलूम देवबंद ने फतवा जारी कर मुस्लिम महिलाओं द्वारा बाल कटवाने और आई ब्रो बनवाने को नाजायज करार दिया है। देबबंद की तरफ से मौलाना सादिक काजमी ने फतवा जारी करते हुए इन गतिविधियों को इस्लाम के खिलाफ माना और कहा कि दारुल उलूम को बहुत पहले ही यह फतवा जारी कर देना चाहिए था। बता दें कि कुछ दिनों पहले एक मुस्लिम शख्स ने देवबंद के फतवा जारी करने वाले विभाग से पूछा था कि क्या मुस्लिम महिलाएं हेयर कटिंग और आई ब्रो बनवा सकती हैं।

उसके जवाब में मौलाना काजमी ने कहा है कि यह इस्लाम के खिलाफ है। काजमी ने कहा कि मुस्लिम महिलाओं के लिए जो दस पाबंदियां लगाई गई हैं, उनमें ये दोनों भी शामिल है। बता दें कि इससे पहले भी इस तरह के फतवे जारी हो चुके हैं। सोशल मीडिया पर इस फतवे का कई लोगों ने मजाक उड़ाया है। यूजर्स तरह-तरह की प्रतिक्रिया दे रहे हैं।