ताज़ा खबर
 

अश्विन की पत्‍नी प्रीति ने खोला शादी की पहली रात का राज, जब टीम ने कमरे में कर दी थी ये खुराफात

शादी की पहली रात से जुड़े राज से पर्दा किसी और ने नहीं बल्कि भारतीय क्रिकेट टीम के हरफनमौला खिलाड़ी की पत्नी प्रीति अश्विन ने उठाया है।

13 नवंबर 2017 को रविचंद्रन अश्विन की शादी को छह साल पूरे हुए। उन्होंने पत्नी को इस बाबत टि्वटर पर शादी की सालगिरह की बधाई दी थी।

टीम इंडिया के हरफनमौला खिलाड़ी रविचंद्रन अश्विन की शादी की पहली राज से जुड़ा राज सामने आया है। राज से पर्दा किसी और ने नहीं बल्कि उनकी पत्नी प्रीति अश्विन ने उठाया है। उन्होंने बताया कि उस रात टीम ने उन लोगों के कमरे में एक बड़ी खुराफात कर दी थी। अच्छी बात थी कि तब अश्विन के लिए वह खुराफात दोगुनी मुश्किल लेकर नहीं आई थी। पत्नी के इस खुलासे के बाद सोशल मीडिया पर उनके फैंस ने इस पर कमेंट्स किए। सोमवार को दोनों की शादी की छठी सालगिरह थी। टि्वटर पर अश्विन ने पत्नी प्रीति के लिए प्यार भरा संदेश पोस्ट किया। लिखा, ” हमें शादी किए हुए छह साल हो गए प्रीति। यह वक्त कितनी तेजी से निकल गया। कठिन वक्त में भी मेरे साथ खड़ी रहने के लिए तुम्हारा शुक्रिया।”

अश्विन की इस प्रतिक्रिया के बाद प्रीति ने भी ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, “शुक्रिया। कठिन वक्त को हमने मिल कर मुकाबला किया। लेकिन क्या तुम्हें लगता है कि हमारी शादी इतनी मजबूत है कि हम साथ में केटो (डाइट) ले सकते हैं।”

प्रीति ने इसके बाद एक और ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने भी शादी सालगिरह की बधाई दी। उन्होंने ट्वीट में शादी का फोटो भी पोस्ट किया और बताया कि शादी की पहली रात क्या हुआ था। अगले ट्वीट में लिखा, “आज के ही दिन छह साल पहले हमारी शादी हुई थी और हम कोलकाता गए थे। परिवार वालों ने मुझे कहा था उसे (अश्विन को) सोने देना क्योंकि अगले दिन उनका मैच था। लेकिन उस रात वहां कुछ अलार्म छुपाकर रखे गए थे, जो पूरी रात बजते रहे। अच्छी बात थी कि अगले दिन टीम को बल्लेबाजी करनी थी।” यह खुराफात टीम के कुछ खिलाड़ियों ने ही की थी।

वह लिखती हैं, “वह मेरा पहला टेस्ट मैच था। मैं जितनी घबराई हुई थी, उतनी ही उत्साहित भी थी। मुझे सबसे नाकामी तब लगी, जब मैं मैदान पर अश्विन को पहचान न सकीं। जबकि 300 विकेट लेने की ओर वह खिलाड़ी आगे बढ़ रहा था।”

रात भर अलार्म बजने से अश्विन उस रात सो नहीं पाए थे। अगले दिन मैच भी खेलना था, लेकिन उनकी किस्मत अच्छी थी। भारतीय टीम ने मैच में बल्लेबाजी चुनी, जिससे अश्विन पर दबाव नहीं पड़ा। अगर टीम गेंदबाजी चुनती, तो यह अश्विन के लिए थोड़ी मुश्किल पैदा कर सकता था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App