ताज़ा खबर
 

ओवैसी के बयान पर भड़के बीजेपी नेता स्वामी, बोले- आतंकी संगठनों में कितने मुसलमान, यह भी बताएं

भाजपा सांसद की प्रतिक्रिया ऐसे समय में आई है, जब हैदराबाद से सांसद ओवैसी ने पिछले दिनों जम्मू-कश्मीर के सुंजवां आर्मी कैंप में मारे गए शहीदों को धार्मिक रंग देने की कोशिश की थी। उन्होंने कहा कि आतंकी हमले में जो साथ लोग शहीद हुए हैं, उनमें पांच मुस्लिम थे।

तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (फोटो सोर्स सोशल मीडिया)

भाजपा के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने सेना पर दिए एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी के विवादित बयान पर निशाना साधा है। बुधवार (14 फरवरी, 2018) को किए ट्वीट में उन्होंने एमआईएम चीफ से पूछा है, “ओवैसी मारे गए भारतीय सेना के जवानों की गिनती कर रहे हैं, लेकिन क्या वह गिनती कर सकते हैं कि सेना पर आतंकी हमले करने वालों में कितने मुसलमान हैं?” भाजपा सांसद की प्रतिक्रिया ऐसे समय में आई है, जब हैदराबाद से सांसद ओवैसी ने पिछले दिनों जम्मू-कश्मीर के सुंजवां आर्मी कैंप में मारे गए शहीदों को धार्मिक रंग देने की कोशिश की थी। उन्होंने कहा कि आतंकी हमले में जो साथ लोग शहीद हुए हैं, उनमें पांच मुस्लिम थे।

तब औवैसी ने कहा था, “रोज रात में 9 बजे टीवी चैनलों में मुसलमानों की राष्ट्रीयता पर सवाल उठाए जाते हैं, कश्मीरियों पर इल्जाम लगाए जाते हैं, अब 7 में से मरने वाले 5 मुसलमान हैं, तो इस पर क्यों नहीं बोला जा रहा है कि मरने वाले भी मुसलमान हैं, इस पर पूरे मुल्क में खामोशी क्यों हैं, सन्नाटा क्यों हैं? इससे उन लोगों को सबक हासिल करना पड़ेगा जो मुसलमानों की वफादारी पर शक करते हैं, जो मुसलमान को आज भी पाकिस्तानी कह कर पुकारते हैं और हम तो जान दे रहे हैं। दहशतगर्द सभी को सिर्फ हिन्दुस्तानी मानते हैं और उन्हें गोली मारते हैं, लेकिन हिन्दुस्तान में कुछ लोग अभी भी मुसलमानों पर शक करते हैं।”

ओवैसी के इसी बयान पर भाजपा सांसद ने प्रतिक्रिया दी है। स्वामी के ट्वीट पर ट्विटर यूजर्स ने भी अपनी प्रतिक्रियाएं दी हैं। एक कमेंट में लिखा गया, “कश्मीरी हिन्दुओं का सब कुछ छिन गया, फिर भी वो आतंकवादी नहीं बने। कश्मीरी मुस्लिमों को सब कुछ दिया गया, फिर भी वो आतंकवादी बन गए।” एक कमेंट में लिखा गया कि कश्मीर में मुसलमानों ने हिन्दुओं को लूटा, लेकिन किसी भी मुस्लिम ने आवाज नहीं उठाई, क्योंकि कुरान में ऐसा है!”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App