ताज़ा खबर
 

तंज है या प्यार? मार्कण्डेय काटजू और बरखा दत्त के बीच का यह संवाद

बरखा ने लोहड़ी की बधाई ट्विटर के जरिए दी और साथ में एक पंजाबी भाषा बोलती बिल्ली का वीडियो भी पोस्ट किया। जिसे मार्कंडेय काटजू ने रीट्विट करते हुए कुछ ऐसा कहा जिससे साफ ही नहीं हो पाया कि वह प्यार जता रहे हैं या तंज कस रहे हैं।

Author January 13, 2019 3:10 PM
पूर्व जस्टिस मार्कंडेय काटजू (फोटो सोर्स : Indian Express)

देशभर में आज (13 जनवरी) लोहड़ी मनाई जा रही है। सभी एक दूसरे को बधाई और शुभकामनाएं दे रहे हैं। विशेज के लिए हर कोई न कोई तरीका अपनाता है। एक ऐसा ही तरीका अपनाया सीनियर जर्नलिस्ट बरखा दत्त। बरखा ने लोहड़ी की बधाई ट्विटर के जरिए दी और साथ में एक पंजाबी भाषा बोलती बिल्ली का वीडियो भी पोस्ट किया। जिसे सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्टिस मार्कंडेय काटजू ने रीट्विट करते हुए बरखा को बधाई दी और साथ में कुछ ऐसा कहा जिससे साफ ही नहीं हो पाया कि वह प्यार जता रहे हैं या तंज कस रहे हैं।

फोटो सोर्स : Twitter

वरिष्ठ पत्रकार बरखा दत्त ने लोहड़ी पर ट्वीट करते हुए लिखा कि, मेरी फेवरेट पंजाबी बिल्ली और मेरी तरफ से सबनु लोहड़ी दि लख लख बधाइयां। बरखा के इस संदेश के कुछ देर बाद मार्कंडेय काटजू ने रीट्विट करते हुए बरखा को बधाई दी। काटजू ने लिखा कि, तुम मुझे पंजाबी खाने के लिए घर पर कब बुला रही हो, मेरी छोटी बहन… जिसके कान समय समय पर खींच कर ठीक करता रहूं?

फोटो सोर्स : Twitter

काटजू के इस ट्वीट को कुछ देर बाद बरखा ने जवाब दिया। बरखा दत्त ने लिखा कि, आपका स्वागत है सर… किसी भी समय। आपको और आपके परिवार को लोहड़ी की बधाई। अब वैसे… मेरे कान पूरी तरह खिंच चुके हैं।

फोटो सोर्स : Twitter

बता दें कि, अपने बयानों के कारण मार्कण्डेय काटजू सुर्खियों में बने रहते हैं। बीते दिनों उन्होंने मोदी सरकार और सीबीआई में छिड़ी लड़ाई पर भी बयान दिया था। काटजू ने पोस्ट में लिखा था कि, बहुत से लोगों ने इस बात पर सवाल उठाया कि आलोक वर्मा को अपनी सफाई रखने का मौका आखिर क्यों नहीं दिया गया। मैंने जस्टिस सीकरी से इस कारण फोन पर बात की। इस बातचीत में वर्मा मामले में हुए फैसले के पीछे के कारण सामने आए, जिन्हें जस्टिस सीकरी की अनुमति से मैं फेसबुक पर पोस्ट कर रहा हूं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App