ताज़ा खबर
 

टीवी डिबेट में पैनलिस्‍ट को कांग्रेस प्रवक्‍ता ने कह दिया ‘बिकाऊ’, भड़के एंकर ने इस तरह दिया जवाब

टीवी डिबेट में प्रियंका चतुर्वेदी इस बात पर अड़ी रहीं कि वह पैनलिस्ट से माफी नहीं मांगेंगी। वह यहां किसी से माफी नहीं मांगने आई हैं।

एंकर ने कि यहां राहुल गांधी की रैली नहीं चल रही है, यहां प्रियंका चतुर्वेदी की सभा नहीं चल रही है। आपको सबूत देना पड़ेगा।

टीवी पर डिबेट चल रही थी। इस डिबेट में बीजेपी के प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव, कांग्रेस की प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी, जन विकल्प मोर्चा के पार्थेश और पास के नेता अतुल पटेल के अलावा पैनलिस्ट में वरिष्ठ पत्रकार जपन पाठक मौजूद थे। यह डिबेट न्यूज 18 इंडिया चैनल पर चल रही थी। इस डिबेट में चैनल की तरफ से न्यूज एंकर सुमित अवस्थी थे। कांग्रेस की प्रवक्ता जपन पाठक से बात कर रही थीं। वह कह रही थीं कि हम तो जो भी करते हैं खुल्लम खुल्ला करते हैं। एलाइंस भी करते हैं तो सबको बताकर करते हैं। आप जैसे छुपे हुए पत्रकार, बिकाऊ पत्रकार, देश गुजरात जैसा बीजेपी का हैंडल चलाते हैं। प्रियंका इतना ही कह पाती हैं कि बीच में एंकर ने प्रियंका को रोकते हैं, बीच में जपन भी बोलने लगते हैं। सुमित अवस्थी कहते हैं कि प्रियंका चतुर्वेदी मुझे नहीं पता कि आपकी जपन से क्या दिक्कत है।

आप ऐसा व्यवहार नहीं कर सकती हैं। प्रियंका जी आप सीनियर हैं। आप इस तरह का व्यवहार नहीं कर सकती हैं। जपन मेरे सम्मानित मेहमान हैं। प्रियंका जी आपने बहुत ही आपत्तिजनक शब्द का इस्तेमाल किया है। जपन को मैंने बुलाया है, आपको जो कहना है आप मुझे कहिए प्रियंका चतुर्वेदी। इसके बाद प्रियंका पर भड़कते हुए सुमित अवस्थी ने कहा कि आपको साबित करना पड़ेगा कि आपने बिकाऊ शब्द का इस्तेमाल क्यों किया। ये आपकी चुनाव प्रचार की रैली नहीं चल रही है। चुनाव प्रचार खत्म हुआ।

आपने एक पत्रकार की ईमानदारी पर सवाल उठाया है। यह बिलकुल स्वीकार्य नहीं है। यह बहुत ही गलत बयानी है। अगर आप इसी लाइन पर बात करेंगी तो मैं आपसे बात नहीं करूंगा। एंकर प्रिंयका से बार बार जपन से माफी मांगने के लिए कहता है। प्रियंका कहती हैं कि मैं किसी से माफी नहीं मांगूंगी। मैं किसी से माफी मांगने यहां नहीं आई हूं। एंकर कहता है कि यहां यहां राहुल गांधी की रैली नहीं चल रही है, यहां प्रियंका चतुर्वेदी की सभा नहीं चल रही है। आपको सबूत देना पड़ेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App