ताज़ा खबर
 

डिबेट में पीएम की आलोचना कर रहे थे कांग्रेस प्रवक्ता, एंकर बोलीं- उम्र कितनी है आपकी?

आगे एंकर बोलीं, "मैं बस इसलिए पूछ रही थी कि हम एक दूसरे को कम से कम इतना सम्मान तो दे सकते हैं कि जब प्रधानमंत्री के बारे में बात करें तो तू-तड़ाक पर ना उतरें...मेरा ये निवेदन तमाम पार्टियों से रहता है ऐसा नहीं कि मैं सिर्फ प्रधानमंत्री के लिए कह रही हूं...लेकिन देश का पीएम और कुर्सी बहुत बड़ी चीज होती है।"

मॉनसून सत्र के पहले दिन लोकसभा में मौजूद पीएम नरेंद्र मोदी (फोटो-पीटीआई/टीवी ग्रैब)

2019 लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस और बीजेपी के बीच जबर्दस्त बयानबाजी जारी है। दोनों पार्टियां टीवी स्टूडियो में भी अपना पक्ष रख रही हैं। न्यूज चैनल आजतक पर ऐसे ही एक बहस के दौरान एंकर ने कांग्रेस प्रवक्ता की क्लास लगा दी। दरअसल कांग्रेस प्रवक्ता पीएम नरेंद्र मोदी के लिए जिस तरह के शब्दों का इस्तेमाल कर रहे थे, वो उन्हें पसंद नहीं आया, और एंकर ने पूछा कि आप तो बड़े पढ़े-लिखे वकील हैं आपकी उम्र कितनी होगी लगभग। एंकर ने कहा कि पीएम पद की गरिमा का ख्याल रखते हुए पीएम के लिए सम्मानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया जाना चाहिए।

बहस में कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने कहा, “एक तरफ राहुल गांधी हैं जो कहते हैं कि मेरा धर्म है हिन्दुस्तान, मैं मंदिर भी जाऊंगा, मस्जिद, गुरुद्वारे और चर्च भी जाऊंगा, एक तरफ नरेंद्र मोदी हैं जो कहते हैं कुत्ते का बच्चा गाड़ी के नीचे आ जाता है तो वो आवाज करता है, मुझे फक्र है राहुल गांधी पर…जो कहते हैं कि मैं हर धर्म के सामने जाकर सिर झुकाउंगा…और मुझे घृणा आती है मेरे देश का प्रधानमंत्री ऐसा है जो कहता है कुछ कुत्ते के बच्चे गाड़ी के नीचे आ जाते हैं तो उनकी आवाज निकलती है…मोहन भागवत कहते हैं मदर टेरेसा धर्म परिवर्तन का काम करती थी, कोई कहता है मनमोहन सिंह एक सिख…पाकिस्तान का एजेंट है…।” जयवीर शेरगिल जब बोल रहे थे तो मुस्लिम स्कॉलर डॉ रिजवान अहमद ने उनकी बात काटने की कोशिश की।

इस बीच एंकर ने कहा कि, “जयवीर जी आप तो पढ़े लिखे वकील है आपकी उम्र लगभग कितनी होगी…” आगे एंकर बोलीं, “मैं बस इसलिए पूछ रही थी कि हम एक दूसरे को कम से कम इतना सम्मान तो दे सकते हैं कि जब प्रधानमंत्री के बारे में बात करें तो तू-तड़ाक पर ना उतरें…मेरा ये निवेदन तमाम पार्टियों से रहता है ऐसा नहीं कि मैं सिर्फ प्रधानमंत्री के लिए कह रही हूं…लेकिन देश का पीएम और कुर्सी बहुत बड़ी चीज होती है…मुझे नहीं लगता कि कोई मनमोहन सिंह के बारे में तू-तड़ाक करके बात करता था…करता है…या करेगा…आरोप अपनी जगह है लेकिन अगर अपनी इस उम्र में आप कहते हैं कि ये प्रधानमंत्री करता है… ऐसे करता है…तो ये अच्छा नहीं लगता है…शोभा नहीं देता है…कुर्सी का सम्मान करें।” एंकर की टिप्पणी के बीच में जयवीर शेरगिल ने भी अपनी बातचीत कहने की कोशिश की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App