ताज़ा खबर
 

राहुल गांधी ने ‘ट्विटर वॉर’ में नरेंद्र मोदी को छोड़ा पीछे, पीएम से ज्‍यादा मिल रहा रिस्‍पांस

पीएम मोदी आम तौर पर नए फैसलों, कूटनीति और अन्य चीजों को लेकर ट्वीट करते हैं। वहीं, राहुल रोजगार, इन्फ्रास्ट्रक्चर और किसानों के मसले की बात उठाते हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और नरेंद्र मोदी दोनों ही सोशल मीडिया पर खासा सक्रिय हैं। (एक्सप्रेस फोटो)

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने टि्वटर वॉर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कई चीजों में पछाड़ दिया है। हालांकि, इन दोनों राजनीतिक दिग्गजों के फॉलोअर्स की संख्या में बड़ा अंतर है। फिर भी कांग्रेस अध्यक्ष को माइक्रो ब्लॉगिंग साइट पर पीएम से ज्यादा रिस्पांस मिल रहा है। पीएम को लगभग 44.7 मिलियन लोग फॉलो करते हैं, जबकि राहुल को 8.09 मिलियन लोग पसंद करते हैं। आइए जानते हैं कि आखिर किन मामलों में राहुल पीएम से इस वर्चुअल वॉर में आगे निकले हैं:

रीट्वीट पर ट्वीट (हर ट्वीट पर रीट्वीट), रिप्लाई पर ट्वीट (ट्वीट पर जवाब/प्रतिक्रिया) और लाइक्स पर ट्वीट (हर ट्वीट पर लाइक) सरीखे पैमानों में साल 2017 से राहुल ने पीएम को पीछे छोड़ा है। ‘टीओआई’ द्वारा किए गए विश्लेषण के मुताबिक, ट्वीट्स की संख्या के मामले में देखें तो दोनों नेताओं के बीच कांटे की टक्कर दिखती है।

पीएम मोदी आम तौर पर नए फैसलों, कूटनीति और अन्य चीजों को लेकर ट्वीट करते हैं। वहीं, राहुल रोजगार, इन्फ्रास्ट्रक्चर और किसानों के मसले की बात उठाते हैं। हालांकि, उस दौरान वह कई मौकों पर पीएम पर निजी हमले भी कर जाते हैं, जिसमें पीएम मोदी सामान्यः बचते दिखते हैं।

राहुल को एक ट्वीट पर लगभग आठ हजार रीट्वीट आते हैं, जबकि पीएम के रीट्वीट्स का आंकड़ा चार हजार से भी कम है। कांग्रेस अध्यक्ष के एक ट्वीट पर लगभग 30 हजार लाइक्स होते हैं, मगर पीएम के ट्वीट को तकरीबन 15 हजार फॉलोअर्स ही पसंद करते हैं। वहीं, ट्वीट पर रिप्लाई के मामले में राहुल को 3500 प्रतिक्रियाएं आती हैं, जबकि पीएम को सिर्फ 1000 लोग ही रिस्पांस देते हैं।

विश्लेषण बताता है कि राहुल अपने 46 ट्वीट्स में से एक में रोजगार पर, 106 में से एक में इंफ्रास्ट्रक्चर और 17 में से एक में किसानों का मुद्दा उठाते हैं। पर पीएम 462 में से एक में नौकरी, 64 में से एक में आधारभूत ढांचे और 33 में से एक में किसानों पर बात करते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App