scorecardresearch

लाइव शो में रागिनी नायक बोलीं – महात्मा गांधी की हत्या पर RSS ने बांटा था लड्डू, वीडियो किया शेयर तो लोगों ने किए ऐसे कमेंट्स

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने भी RSS पर निशाना साधते हुए कहा है कि इतिहास गवाह है, हर घर मुहिम चलाने वाले, देशद्रोही संगठन से निकले हैं। जिन्होंने 52 सालों तक तिरंगा नहीं फहराया।

Presidential Election Result | shehzad poonawalla | ragini nayak
कांग्रेस प्रवक्ता रागिनी नायक (फाइल फोटो – सोशल मीडिया)

नरेंद्र मोदी सरकार के ‘हर घर तिरंगा’ अभियान को लेकर राजनीति गर्म हो गई है। एक तरफ भारतीय जनता पार्टी इसका जोर शोर से प्रचार करती नजर आ रही है तो वहीं कांग्रेस नेताओं ने इस पर कई तरह के सवाल उठाए हैं। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने ‘हर घर तिरंगा’ अभियान चलाने वाले को देशद्रोही संगठन बताया है। इस विषय पर हो रही एक चर्चा के दौरान कांग्रेस प्रवक्ता रागिनी नायक ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर हमला बोला।

कांग्रेस प्रवक्ता ने RSS पर बोला हमला

समाचार चैनल ‘एबीपी न्यूज़’ के कार्यक्रम में अपनी पार्टी का पक्ष रखते हुए रागिनी नायक ने कहा, ‘संघ के पेट में इसलिए दर्द हो रहा है क्योंकि वह हेडगवार और सावरकर के हाथ में तिरंगे की फोटो नहीं दिखा सकते हैं। संघ के लोग भी भगवा ध्वज लिए ही नजर आते हैं।’ उन्होंने आगे कहा कि जो लोग तिरंगे का सम्मान नहीं करते, वो कांग्रेस पर किसी तरह का सवाल ना उठाएं।

रागिनी नायक ने कहा – RSS का काम केवल भ्रम फैलाना है

रागिनी नायक ने कहा कि कुछ दिन पहले मोहन भागवत का ब्लू टिक गायब हो गया था तो पूरे देश में हंगामा हो गया था। अब उसी टि्वटर हैंडल पर उन्होंने तिरंगे की तस्वीर नहीं लगाई है। RSS पर तीखा प्रहार करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, ‘ये वही लोग हैं जो संविधान की प्रतियां जलाते थे और मनुस्मृति को लागू करने की मांग करते थे। इन्होंने महात्मा गांधी की हत्या पर लड्डू बांटे थे। इन्हीं के लोगों ने दो राष्ट्र की बात प्रतिपादित की थी।’

लोगों का जवाब

डिबेट के वीडियो को रागिनी नायक ने अपने सोशल मीडिया हैंडल से शेयर किया तो कुछ लोग उनकी बातों से सहमति जताने लगे तो वहीं कुछ लोगों ने कांग्रेस पार्टी पर जमकर हमला। मजहर अंसारी नाम के एक यूजर ने कमेंट किया कि बीजेपी तो चाहती है कि आप लोग डीपी डीपी खेलते रहिए, इससे जनता का क्या फायदा होने वाला है? अजय शर्मा नाम के एक यूजर द्वारा लिखा – हर झूठ का नकाब उठ रहा है, सच वाला इतिहास सामने आ रहा। जिस नेहरू जी की फोटो की बात आप कर रही हैं, वो खुद राष्ट्रीय ध्वज केसरिया चाहते थे।

अखिलेश्वर नाम के एक यूजर कमेंट करते हैं कि पूरी दुनिया जानती है कि अकेले कांग्रेस ने ही आजादी नहीं दिलाई है। आप लोग नेहरू और गांधी का नाम लेकर अन्य लोगों को कमतर बताते हैं। मनीष नाम के एक यूजर ने लिखा कि अगर RSS ने इतना ही बुरा काम किया है तो देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने उनके साथ बातचीत क्यों की थी?

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X