ताज़ा खबर
 

बीजेपी मंत्री की बात से बुरी तरह खफा हो गए राशिद अल्वी, छोड़ दिया शो

एक लाइव टीवी बहस के दौरान उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के अल्पसंख्यक मामलों के राज्य मंत्री मोहसिन रजा के द्वारा सवाल पूछे जाने पर वरिष्ठ कांग्रेसी नेता राशिद अल्वी बीच में ही शो छोड़कर चले गए।

योगी आदित्यनाथ सरकार में अल्पसंख्यक मामलों के राज्य मंत्री मोहसिन रजा और कांग्रेस नेता राशिद अल्वी। (फोटो सोर्स- फेसबुक)

एक लाइव टीवी बहस के दौरान उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के अल्पसंख्यक मामलों के राज्य मंत्री मोहसिन रजा के द्वारा सवाल पूछे जाने पर वरिष्ठ कांग्रेसी नेता राशिद अल्वी बीच में ही शो छोड़कर चले गए। समाचार चैनल आजतक के कार्यक्रम हल्ला बोल में हाल के मदरसा ड्रेस कोड विवाद पर बहस चल रही थी, जिसमें बीजेपी नेता मोहसिन रजा को चैनल ने गेस्ट एंकर बनाया था। अन्य मेहमानों के साथ राशिद अल्वी भी बहस में शामिल हुए थे। लेकिन शो के दौरान कांग्रेस नेता को बीजेपी नेता की बातें इतनी अखरीं कि उन्होंने लाइव डिबेट में ही शो का बहिष्कार कर दिया और माइक्रोफोन निकालकर मौके से जाना बेहतर समझा। शो के इस हिस्से का वीडियो चैनल ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया है। करीब तीन मिनट के वीडियो में मोहसिन रजा और राशिद अल्वी के बीच मदरसों में ड्रेस कोड विवाद पर बहस होती दिखाई देती है। इस दौरान राशिद अल्वी बीजेपी नेता की एंकरिंग और मंत्री रहते हुए उनके काम पर सवाल उठाते हैं। राशिद अल्वी कहते हैं, ”आप न एंकरिंग कर पा रहे हैं और न मंत्रालय संभाल पा रहे हैं। आपने कहा कि मदरसों के अंदर बच्चों का यूनिफॉर्म कोड होना चाहिए, आप एंकरिंग कैसे करेंगे?” वह आगे कहते हैं, ”मुझे पता होता कि आप एंकरिंग कर रहे हैं तो शो में ही नहीं आता।”

कांग्रेस नेता के इतना कहने पर मोहसिन रजा ने भी कई सवाल दाग दिए। बीजेपी नेता ने राशिद अल्वी से पूछा, ”आप ही बता दीजिए कि मदरसों में ड्रेस कोड आपने शुरू क्यों नहीं किया था? आपने उनको अलग-थलग खाली मुसलमान बनाकर क्यों रखा? आपने उनको देश की मुख्यधारा से.. कांग्रेस ने 50 साल में क्यों नहीं जोड़ा?” इस पर राशिद अल्वी ने कहा, ”आप मुस्लिम दुश्मन लोगों के साथ खड़े हैं, इसलिए मैं आपकी किसी बात का सवाल नहीं देता और इसे बायकाट करता हूं।” इतना कहते हुए राशिद अल्वी शो से चले गए।

कांग्रेस अल्वी के शो से जाने के बाद मोहसिन रजा ने कहा, ”क्या बात कर रहे हैं आप, 125 करोड़ लोगों का आबादी में हम रहते हैं, आप इतनी गलत बात करके बोल रहे हैं, आपसे हमें ये गैरजिम्मेदाराना बात की उम्मीद नहीं थी राशिद अल्वी साहब। आगे कहा, आपने इतने वरिष्ठ नेता होते हुए कहा कि आप दुश्मन लोगों के साथ में हैं, मतलब आप इस तरह की सियासत करते हैं, बड़े अफसोस की बात है कि हमारे देश के जो वरिष्ठ नेता हैं.. कांग्रेस के.. वो इस तरह की भाषा का इस्तेमाल करते हैं और जिस तरह से वो छोड़कर डिबेट गए हैं, ये जनता देख रही है, तो आपको समझ लेना चाहिए कि इस वक्त विकास नहीं देखना चाहते, इन्होंने अगर विकास किया होता तो इन्हें मंच छोड़कर, डाइस छोड़कर, ये शो छोड़कर नहीं भागकर जाना पड़ता..।

बता दें कि बीती 3 जुलाई को योगी कैबिनेट के मंत्री मोहसिन रजा यूपी के मदरसों में एक व्यवस्थित ड्रेस कोड लागू किए जाने की बात कही थी, इसके बाद ही राज्य के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने ट्वीट कर कहा था कि सरकार ऐसी कोई नीति नहीं ला रही है जो मदरसों के ड्रेस कोड में बदलाव की पक्षधर हो। तब मदरसों में ड्रेस कोड विवाद पर कई नेता बयानबाजी कर चुके हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App