ताज़ा खबर
 

मोदी नीच इंसान: मणिशंकर अय्यर पर फूटा गुस्सा, लोग बोले- ‘चायवाला’ पर मिलीं 44 सीट, अबकी मिट जाएगी कांग्रेस

Mani Shankar Aiyar Statement: विवाद की शुरुआत तब हुई थी जब पीएम मोदी ने बीते गुरुवार (6 दिसंबर) को दिल्ली स्थित इंटरनेशनल बाबा साहेब आंबेडकर सेंटर का उद्घाटन किया था।

तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (फाइल फोटो और ट्विटर स्क्रीन शॉट)

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल कर सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए हैं। कई यूजर्स ने पीएम मोदी पर की गई उनकी टिप्पणी को भयानक बताया है। दरअसल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने पूर्व में पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए उन्हें ‘नीच आदमी’ तक कह दिया था। इस पर सोशल मीडिया में भईयाजी ट्वीट कर लिखते हैं, ‘मणिशंकर अय्यर ने जब पीएम मोदी को चायवाला कहा था तब पार्टी 44 सीटों पर सीमित हो गई थी। अब उन्होंने पीएम को नीच आदमी कहा है। 2019 में कांग्रेस इतिहास बन सकती है।’

वहीं भाजपा नेता शाजिया इल्मी ने ट्वीट कर लिखा, ‘मणिशंकर अय्यर की भयानक टिप्पणी। वह कैसे किसी को भी नीच कह सकते हैं? शर्मनाक!’ एक कमेंट में लिखा गया कि इसकी शुरुआत राहुल गांधी के अध्यक्ष पद का नामांकन भरते ही शुरू हो गई है। 2019 में कांग्रेस का अंतिम संस्कार होगा। समीर लिखते हैं, ‘कांग्रेस को तुरंत माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने राष्ट्र का अपमान किया है।’ वहीं एक कमेंट में मणिशंकर का समर्थन करते हुए लिखा गया, ‘उन्होंने कुछ भी गलत नहीं कहा।’ वरुण शर्मा लिखते हैं, ‘मतलब सरकारी स्कूल के बच्चे को इतनी बड़ी पोस्ट पर नहीं देख सकते। आखिर वह भी ऐसी भाषा का इस्तेमाल नहीं करते।’ रजत शुक्ला लिखते हैं, ‘कांग्रेस अब इतिहास है। चुनाव में कहीं भी एक सीट नहीं मिल रही।’

गौरतलब है इस विवाद की शुरुआत तब हुई थी जब पीएम मोदी ने बीते गुरुवार (6 दिसंबर) को दिल्ली स्थित इंटरनेशनल बाबा साहेब आंबेडकर सेंटर का उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने कांग्रेस और राहुल गांधी पर इशारों में जमकर निशाना साधा और कहा था कांग्रेस ने एक परिवार को बढ़ाने के लिए बाबा साहेब के योगदान को दबाया। मोदी के इस बयान पर मणिशंकर अय्यर ने बहुत ज्यादा तल्ख टिप्पणी करते हुए उन्हें नीच आदमी कहा था। कांग्रेस नेता इससे पहले साल 2014 के लोकसभा चुनावों के वक्त पीएम मोदी को चायवाला भी कहा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App