पीएम की फोटो पर दिव्‍या स्‍पंदना ने किया कमेंट, विवाद होने पर कहा- नहीं दूंगी सफाई

अपने नेता के अपमान से नाराज भाजपा ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा है कि कांग्रेस में नैतिकता ​खत्म हो गई है। हालांकि कांग्रेस सूत्रों ने कहा है कि वह पीएम मोदी के विरुद्ध दिव्या स्पंदना के द्वारा इस्तेमाल की गई भाषा को मंजूर नहीं करते हैं।

Modi at Statue Of Unity
पीएम नरेंद्र मोदी की इसी फोटो को दिव्या स्पंदना ने ट्वीट किया था। फोटो: एएनआई

कांग्रेस ​नेता दिव्या स्पंदना ने पीएम नरेंद्र मोदी को निशाना बनाते हुए एक ट्वीट किया था। इस ट्वीट पर सोशल मीडिया में तीखी प्रतिक्रिया हुई है। इसकी कड़ी भर्त्सना भी हो रही है। ये निंदा न सिर्फ भाजपा बल्कि दिव्या की अपनी पार्टी कांग्रेस के भीतर भी हो रही है। अपने नेता के अपमान से नाराज भाजपा ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा है कि कांग्रेस में नैतिकता ​खत्म हो गई है। हालांकि कांग्रेस सूत्रों ने कहा है कि वह पीएम मोदी के विरुद्ध दिव्या स्पंदना के द्वारा इस्तेमाल की गई भाषा को मंजूर नहीं करते हैं।

बता दें कि अभिनेत्री से नेता बनी दिव्या स्पंदना ने ये ट्वीट उस फोटो पर किया जिसमें पीएम मोदी सरदार पटेल की गुजरात में स्थित मूर्ति स्टैच्यू आॅफ यूनिटी के पैरों के पास खड़े दिख रहे थे। इस मूर्ति का उदघाटन बुधवार (31 अक्टूबर) को किया गया था। दिव्या स्पंदना ने अपने ट्वीट में कहा था ,”क्या यह चिड़िया की बीट है?”

दिव्या स्पंदना के ट्वीट पर जवाब देते हुए भाजपा ने कहा,” शायद नहीं, ये कांग्रेस की नैतिकता है जो गिर रही है। सरदार पटेल के लिए ऐतिहासिक तिरस्कार + नरेंद्र मोदी के प्रति घृणा = ऐसी भाषा। साफतौर पर यही राहुल गांधी की प्यार की राजनीति है।

दिव्या स्पंदना के ट्वीट से जब कांग्रेस ने भी किनारा कर लिया। तो दिव्या स्पंदना ने एक और ट्वीट किया।

उन्होंने लिखा कि मेरे विचार मेरे हैं। मैं आपके कहने पर इसका कोई जवाब नहीं देने वाली हूं। दिव्या स्पंदना ने कहा,” जब आप गुस्से में तेजी से हांफ रहे हों और तेजी से सांसें भर रहे हों तो एक लंबी सांस लेनी चाहिए और आइने में खुद को देखना चाहिए। मेरे विचार मेरे अपने हैं। मैं अपने कहने पर उसका दोबारा जवाब नहीं देने वाली हूं। मैं ये बात साफ नहीं करने जा रही हूं कि मेरा कहने का मतलब क्या था? जो मैंने नहीं किया आप उसे जानने के अधिकारी नहीं हैं।”

ये एक महीने में दूसरी बार है जब दिव्या स्पंदना विवाद में आई हैं। इससे पहले, उनके ट्विटर बायो से उनका सोशल मीडिया पद गायब हो गया था। इस बायो में उनका परिचय ”अभिनेत्री, पूर्व संसद सदस्य, कांग्रेस की सोशल मीडिया और डिजिटल संवाद प्रमुख” के तौर पर लिखा हुआ था। 36 वर्षीय दिव्या स्पंदना को ‘राम्या’ नाम से भी जाना जाता है। राम्या हाल ही में पार्टी के कुछ महत्वपूर्ण आयोजनों से नदारद रहीं थीं। इससे ये अनुमान लगाया जा रहा था कि सब कुछ ठीक नहीं है। कांग्रेस सूत्रों का मानना है कि पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी पीएम नरेंद्र मोदी को निशाना बनाने वाले दिव्या स्पंदना के ट्वीट से खुश नहीं हैं।

राम्या ने इससे पहले पीएम मोदी की एक तस्वीर को पोस्ट करते हुए उन्हें चोर लिखा था। इसके खिलाफ उत्तर प्रदेश पुलिस ने उनके खिलाफ राष्ट्रद्रोह का मामला दर्ज किया था। इस ट्वीट में पीएम नरेंद्र मोदी की फोटोशॉप की हुई एक तस्वीर दिख रही थी। इस तस्वीर में पीएम नरेंद्र मोदी के मोम के पुतले के माथे पर हिंदी में चोर लिखा गया था।”

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट