पीएम मोदी की केदारनाथ यात्रा पर हरीश रावत ने कसा तंज, कहा- दर्शन कम दिखावा ज्यादा

हरीश रावत ने कहा कि इस समय भारत की जनता खुद को ठगा हुआ महसूस कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री अपनी राजनीतिक मार्केटिंग के लिए केदारनाथ आए हैं।

PM Modi kedarnath photo, Kedarnath temple
पीएम नरेंद्र मोदी ने केदारनाथ मंदिर में पूजा अर्चना की। (Photo Soource : Twitter/@BJP4India)

कांग्रेस नेता और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की केदारनाथ यात्रा पर तंज कसा है। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री केदार बाबा के दर्शन कम कर रहे हैं, दिखावा ज्यादा कर रहे हैं।

रावत ने कहा, हमारे यहां हर देवालय में केदारनाथ विराजमान हैं। बीजेपी की तरह हम केवल तत्व निकालने के लिए मंदिर नहीं जाते हैं। पीएम मोदी को लेकर उन्होंने कहा कि जनता इस समय महंगाई की तरफ देख रही है। उन्हें कहा कि धर्म की राजनीति से कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है।

रावत ने कहा कि इस समय भारत की जनता खुद को ठगा हुआ महसूस कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री अपनी राजनीतिक मार्केटिंग के लिए केदारनाथ आए हैं।

गौरतलब है कि शुक्रवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने केदारनाथ पहुंचकर पूजा—अर्चना की। यहां उन्होंने आदि शंकराचार्य की प्रतिमा का अनावरण भी किया। पीएम मोदी ने कहा, आदि शंकराचार्य ने पवित्र मठों और चार धाम की स्थापना की थी।

ड्रोन से देखता रहता था केदारनाथ का काम, बोले पीएम मोदी, भाषण में राम मंदिर और दीपोत्सव का भी जिक्र

बता दें कि पीएम मोदी गुरुवार को दीपावली मनाने के लिए जम्मू-कश्मीर के नौशेरा सेक्टर पहुंचे थे। जहां उन्होंने जवानों को संबोधित करते हुए कहा कि ये उनके वह परिवार हैं जिनके साथ उन्होंने अपनी हर दिवाली मनाई है। उन्होंने बताया कि पहले गुजरात के सीएम के तौर पर भी उन्होंने अपनी हर दिवाली सेना के जवानों के साथ मनाई है। इसके साथ ही उन्होंने पिछली सरकारों पर तंज कसते हुए कहा था कि पहले देश के जवानों के लिए जब हथियार खरीदने होते थे, तब हमेशा दूसरे देशों पर निर्भर रहना पड़ता था लेकिन अब आत्मनिर्भर भारत पर जोर दिया जा रहा है।

जानकारी के लिए बता दें कि नरेंद्र मोदी ने जब से प्रधानमंत्री की कुर्सी संभाली है तब से ही वह दिवाली का पर्व सेना के जवानों के साथ मनाते हैं।

पढें ट्रेंडिंग समाचार (Trending News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट