scorecardresearch

धमकी मिलने के बावजूद सुरक्षा क्यों नहीं दी गई? कांग्रेस नेता ने उठाये अशोक गहलोत पर सवाल, लोग बोले- पार्टी से बाहर हो जाएंगे

राजस्थान के उदयपुर में हुई हत्या पर कांग्रेस नेता ने ही अशोक गहलोत पर सवाल उठाया है।

Ashok Gehlot| rahul gandhi| ashok gehlot photo|
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (फोटो : पीटीआई)

राजस्थान के उदयपुर में हुई निर्मम हत्या के बाद करीब 600 पुलिसकर्मियों को इलाके में तैनात किया गया है। जबकि कई बड़े अधिकारी भी घटनास्थल पर पहुंच चुके हैं। बताया जा रहा है कि मृतक के परिजनों को पहले से ही धमकियां मिल रही थी लेकिन प्रशासन ने इसे गंभीरता से नहीं लिया है। अब कांग्रेस नेता ने ही अशोक गहलोत और पुलिस प्रशासन पर सवाल उठाया है।

घटना के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर कहा है कि दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। घटना का वीडियो शेयर कर माहौल खराब करने से बचें। अशोक गहलोत के इस ट्वीट पर कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने सवाल उठाए हैं।

आचार्य प्रमोद ने ट्वीट कर लिखा कि “धमकी मिलने के बावजूद भी “कन्हैया” को सुरक्षा उपलब्ध क्यों नहीं करायी गयी, कातिलों के साथ साथ “पुलिस” प्रशासन भी बराबर का दोषी है। SSP DIG के खिलाफ अभी तक कार्यवाही क्यों नहीं की गयी? क्या “राजस्थान” में “सरकार” का इकबाल बिलकुल खत्म हो गया है?’

सोशल मीडिया पर लोग आचार्य प्रमोद के इस ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। रामचरण नाम के यूजर ने लिखा कि ‘आचार्य जी राजस्थान में जनता का जो कांग्रेस के प्रति विश्वास था, वह उठ चुका है। गहलोत जी के कार्यकाल में राजस्थान में जंगलराज चल रहा है। अगर अभी भी कांग्रेस आलाकमान इस मामले को संज्ञान नहीं लेता तो कांग्रेस मुक्त भारत होना तय है !’

हरीश नेगी ने लिखा कि ‘अपराधी को सख्त सजा मिलेगी, इतना निश्चित है! सरकार का काम करने का तरीका होता है कोई मीडिया ट्रायल नहीं चलाना है। कानून पर विश्वास करिए!’ एक अन्य यूजर ने लिखा कि ‘आप को पार्टी से बाहर निकलना है क्याआचार्य प्रमोद जी?’ रमाशंकर पाण्डेय ने लिखा कि ‘आचार्य जी अपना बोरिया बिस्तर बांध लो। कल सवेरे तक आपको कांग्रेस से भगा दिया जाएगा। पहले महाराष्ट्र सरकार को नसीहत देने के लिए। अब राजस्थान सरकार को नसीहत देने के लिए।’

बता दें कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर लिखा है कि ‘उदयपुर में युवक की जघन्य हत्या की भर्त्सना करता हूं। इस घटना में शामिल सभी अपराधियों पर कठोर कार्रवाई की जाएगी एवं पुलिस अपराध की पूरी तह तक जाएगी। मैं सभी पक्षों से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं। ऐसे जघन्य अपराध में लिप्त हर व्यक्ति को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी।’

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X