ताज़ा खबर
 

नोटबंदी पर नीत‍ि आयोग उपाध्‍यक्ष के इंटरव्‍यू का कांग्रेस ने ऐसे उड़ाया मजाक

सोशल मीडिया पर लोग नोटबंदी का अपने तरीके से मजाक उड़ा रहे हैं, इसी कड़ी में मंगलवार को कांग्रेस के आधिकारिक टि्वटर हैंडल से एक वीडियो शेयर किया गया है, जिसमें नोटबंदी का मजाक उड़ाया गया है। वीडियो का शीर्षक है 'नोटबंदी रिटर्न।' इसमें पत्रकार श्रीनिवासन जैन केंद्र सरकार के थिंक टैंक नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार का इंटरव्यू लेते नजर आ रहे हैं।

(फोटो सोर्स- स्क्रीनशॉट)

केंद्र सरकार ने आठ नवंबर, 2016 को एक बेहद चौंकाने वाले फैसले में नोटबंदी की घोषणा की थी। इसके तहत 500 तथा 1,000 रुपये के नोटों को चलन से बाहर किया गया था। सरकार ने दावा किया था कि इससे काले धन पर लगाम लगेगी, आतंकवादी गतिविधियों में कमी आएगी और अर्थव्यवस्था को बल मिलेगा। लेकिन, हाल में आरबीआई ने घोषणा में बताया कि नोटबंदी के दौरान जमा किए गए लगभग 99.3 फीसदी नोट वापस आ गए हैं। इसका मतलब नोटबंदी का कोई फायदा नहीं हुआ। हां, इस दौरान लोगों को तमाम तरह की मुसीबतें जरूर झेलनी पड़ी। आरबीआई की इस घोषणा के बाद विपक्ष केंद्र में सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की सरकार पर लगातार हमलावर है। विपक्ष का आरोप है कि केंद्र ने बस अपने राजनीतिक स्वार्थों की पूर्ति के लिए नोटबंदी की घोषणा की थी, जिसके कारण देश की जनता को कई महीनों तक नोटबंदी का कहर झेलना पड़ा।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 7 Plus 128 GB Rose Gold
    ₹ 61000 MRP ₹ 76200 -20%
    ₹7500 Cashback
  • Nokia 6.1 2018 4GB + 64GB Blue Gold
    ₹ 16999 MRP ₹ 19999 -15%
    ₹2040 Cashback

सोशल मीडिया पर लोग नोटबंदी का अपने तरीके से मजाक उड़ा रहे हैं, इसी कड़ी में मंगलवार को कांग्रेस के आधिकारिक टि्वटर हैंडल से एक वीडियो शेयर किया गया है, जिसमें नोटबंदी का मजाक उड़ाया गया है। वीडियो का शीर्षक है ‘नोटबंदी रिटर्न।’ इसमें पत्रकार श्रीनिवासन जैन केंद्र सरकार के थिंक टैंक नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार का इंटरव्यू लेते नजर आ रहे हैं। जैन राजीव कुमार से सवाल करते हैं कि नोटबंदी के नतीजे को देखते हुए क्या वे फिर से नोटबंदी लागू करना चाहेंगे। इस सवाल के जवाब में राजीव कुमार कह रहे हैं कि उन्होंने साल 2008 में ही नोटबंदी का सुझाव दिया था और अर्थव्यवस्था को मजबूती देने के लिए वह किसी भी दिन नोटबंदी की घोषणा कर सकते हैं।

इसके बाद वीडियो में प्रधानमंत्री मोदी खुद यह कहते हुए दिख रहे हैं कि यह (सरकार) ऐसे जाएगा क्या? ऐसे जाएगा क्या? उसको डंडा लेकर निकालना पड़ेगा कि नहीं निकालना पड़ेगा। वीडियो में स्क्रीन पर अंत में लिखा आता है, ‘मोदी सरकार को धक्का मारो मौका है, नहीं तो फिर से तैयार नोटबंदी का धोखा है।’ बहरहाल, यह वीडियो पूरी तरह एडिटेट है, जिसे कांग्रेस ने प्रचार के तौर पर इस्तेमाल किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App