ताज़ा खबर
 

जानिए क्‍यों नाक के अंदर कॉन्डोम डाल रहे ये लोग, वीडियो हो रहे वायरल

यूट्यूब पर एक अजीबो-गरीब चैलेंज में कई युवा भाग ले रहे हैं। इस चैलेंज का नाम है 'कॉन्डोम स्नोर्टिंग चैलेंज'। हाल ही में कुछ जगहों पर कॉन्डोम चैलेंज का ट्रेंड तक चला। इस चैलेंज में लोग कॉन्डोम को नाक में डालकर मुंह से बाहर निकालते हुए देखे जा रहे हैं।

फोटो सोर्स- ट्विटर और यूट्यूब स्क्रीनशॉट।

यूट्यूब पर एक अजीबो-गरीब चैलेंज में कई युवा भाग ले रहे हैं। इस चैलेंज का नाम है ‘कॉन्डोम स्नोर्टिंग चैलेंज’। हाल ही में कुछ जगहों पर कॉन्डोम चैलेंज का ट्रेंड तक चला। इस चैलेंज में लोग कॉन्डोम को नाक में डालकर मुंह से बाहर निकालते हुए देखे जा रहे हैं। यूट्यूब पर ऐसे कई वीडियो वायरल हो रहे हैं, जिनमें कुछ लोग इस कॉन्डोम चैलेंज का जोखिम ले रहे हैं। इंटरनेट पर ही कुछ लोग इस चैलेंज को बेहद खतरनाक और बेहूदा करार दे रहे हैं। इंटरनेट से प्राप्त जानकारी के अनुसार पहली बार इस तरह का कॉन्डोम चैलेंज वीडियो 2013 में देखा गया था। उसके बाद 2014 में भी ऐसे ही वीडियो यूट्यूब पर देखे गए, अब एक बार फिर कॉन्डोम की चैलेंज के वीडियो आने लगे हैं। 2013 में ही ‘थिंक टैंक’ नाम के यूट्यूब चैनल पर कॉन्डोम चैलेंज को लेकर रखे गए एक कार्यक्रम में इसका विश्लेषण किया गया था, जिसमें उस कारण पर भी बात की गई थी, जिसकी वजह से लोग ऐसे जोखिम भरे चैलेंज को स्वीकार कर रहे थे।

HOT DEALS
  • Honor 7X 64 GB Black
    ₹ 16999 MRP ₹ 17999 -6%
    ₹0 Cashback
  • Moto G6 Deep Indigo (64 GB)
    ₹ 15783 MRP ₹ 19999 -21%
    ₹1500 Cashback

कार्यक्रम के एंकरों ने बताया था कि यूट्यूब पर लोग इस तरह के बेहूदा चैलेंज को महज 15 मिनट की पब्लिशिटी के लिए कर रहे हैं। शो की महिला एंकर ने कहा था कि आप लोकप्रियता इस चैलेंज के जरिये पाना चाहते हैं, ऐसे में इसका क्या फायदा जब आपकी जान ही खतरे में पड़ जाए। शो के एंकरों की बात नजरअंदाज भी कर दी जाए तब भी यूट्यूब पर मौजूद कॉन्डोम चैलेंज के इन वीडियो को देखकर सहज ही महसूस होता है कि कहीं इसे करते वक्त कॉन्डोम नाक या गले में फंस गया तो लेने के देने पड़ सकते हैं। इसके अलावा नाक, गला और मुंह आदि में इसके कारण कोई संक्रमण भी हो सकता है।

इंडिया टाइम्स की खबर के मुताबिक भारत में एक 27 वर्षीय महिला दुर्घटनावश अपनी नाक से कॉन्डोम अंदर ले गई और उसे बाहर नहीं निकाल सकी, जिसके कारण उसके फेफड़े पर बुरा असर पड़ा। जब तक डॉक्टरों ने कॉन्डोम बाहर निकाला, उस महिला को अगले करीब 6 महीने बुखार और खांसी से पीड़ित रहते हुए गुजारने पड़े थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App