ताज़ा खबर
 

यूपी: बढ़ते एनकाउंटर पर एंकर ने उठाया सवाल तो बोले योगी- क्या अपराधियों की आरती उतारें?

उत्तर प्रदेश में पिछले आठ महीने में पुलिस और अपराधियों के बीच मुठभेड़ की 433 घटनाएं हुई हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश में बढ़ते एनकाउंटर पर आलोचनाओं का सामना कर रहे सीएम योगी आदित्यनाथ ने करारा जवाब दिया है। प्रशासन का मानना है कि अपराधियों की जगह जेल में है या फिर यमराज के पास। लेकिन कई संगठन राज्य सरकार के इस रवैये की आलोचना कर रहे हैं। आजतक के एक प्रोग्राम में एंकर ने इस बारे में सवाल उठाए। एंकर राहुल कंवल ने सीएम योगी आदित्यनाथ से पूछा, ‘राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के मुताबिक उत्तर प्रदेश में 433 एनकाउंटर हुए हैं। ये 21वीं सदी है, आप कहते हैं कि क्रिमिनल या तो जेल जाएंगे या फिर यमराज के पास, ये क्या है? एंकर के इस सवाल पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने दो टूक जवाब दिया। उन्होंने कहा, ‘मैं क्या अपराधियों की आरती उतारूं।’ सीएम के इस जवाब से पूरा हॉल ठहाकों और तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा।बता दें कि राज्य सरकार के आंकड़ों के मुताबिक उत्तर प्रदेश में पिछले आठ महीने में पुलिस और अपराधियों के बीच मुठभेड़ की 433 घटनाएं हुई हैं। इस एनकाउंटर में 17 क्रिमिनल मारे गये हैं। वहीं, 668 इनामी अपराधियों समेत 1106 बदमाश गिरफ्तार किये जा चुके हैं। इसके अलावा 69 अपराधियों की सम्पत्तियां जब्त की गयी हैं।

सीएम योगी ने एनकाउंटर के मुद्दे पर आलोचनाओं का जवाब देते हुए कहा कि जीने का अधिकार सभी को है, लेकिन जिंदगी छीनने किसी को नहीं है। सीएम ने कहा कि एक बदमाश या आतंकी सरेआम किसी निर्दोष व्यक्ति को गोली मार देता है। सरेआम किसी बहन या बेटी की इज्जत के साथ खिलवाड़ करता है, या फिर सबके सामने किसी पुलिसकर्मी को गोली मार दे रहा है। तो इस शख्स की पूजा तो नहीं ही होनी चाहिए। सीएम योगी ने कहा कि ऐसे हैवान की पूजा ना तो होनी चाहिए ना ही किसी को करनी चाहिए। सीएम ने कहा कि यदि कोई शख्स किसी के जीने के अधिकार को छीनता है तो उसके साथ भी वैसा ही व्यवहार किया जाना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App