मदरसों में राष्ट्रगान के खिलाफ फतवा, पर अंग्रेजी स्कूल में ईशु की प्रार्थना गाते हैं काजी के बच्चे

एंकर ने उनसे पूछा कि काजी साहब बच्चे कहां पढ़ते हैं तो उन्होंने कहा कि कॉन्वेंट स्कूल सेंट मारिया में पढ़ते हैं। तब एंकर ने कहा कि वहां बच्चे तो प्रेयर करते होंगे।

जमात ए राजा ए मुस्तफा के प्रवक्ता नासिर कुरेशी साथ में राष्ट्रगान के खिलाफ जारी किया गया फतवा।

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य के सभी मदरसों में 15 अगस्त को तिरंगा फहराने और राष्ट्रगान गाए जाने को लेकर सर्कुलर जारी किया है। हालांकि वीडियोग्राफी का आदेश पर सरकार की आलोचना भी हो रही है। तो वहीं ऐसे में अब उत्तर प्रदेश में बरेली के काजी ने शहर के मदरसों को निर्देश दिए हैं कि वो स्वतंत्रता दिवस तो मनाएं लेकिन राष्ट्रगान ना गाएं। इसकी जगह सारे जहां से अच्छा हिन्दुस्तान हमारा गाएं। इसके बाद ये मुद्दा सोशल मीडिया समेत टीवी पर छा गया। वंदे मातरम के बाद जन गण मन विरोध करना किसी के भी गले से नही उतर रहा है। एक ऐसी ही टीवी डिबेट में बरेली शहर काजी का पक्ष रखने आए जमात ए राजा ए मुस्तफा के प्रवक्ता नासिर कुरेशी ने बताया कि काजी अख्तर रजा खां ने राष्ट्रगान गाने से मना किया है। उसके कुछ शब्दों पर आपत्ति की है।

बाद में जब एंकर ने उनसे पूछा कि काजी साहब बच्चे कहां पढ़ते हैं तो उन्होंने कहा कि कॉन्वेंट स्कूल सेंट मारिया में पढ़ते हैं। तब एंकर ने कहा कि उनके बच्चे तो प्रेयर करते होंगे। उनके बच्चे तो 365 दिन राष्ट्रगान गाते होंगे। जब आपके बच्चे 365 दिन राष्ट्रगान गाते तो आप होते कौन है ये फतवा जारी करने वाले। इसके बाद एंकर ने पूछा कि आपके बच्चे कहां पढ़ता है तो उन्होंने कहा कि मेरे बच्चे सेंट बिशप में पढ़ते हैं। तब एंकर ने कहा तो आपके बच्चे पढ़ते हैं या नहीं। जो आप  अपने बच्चों पर लागू नहीं कर सकते वो दूसरों के बच्चों पर क्यों लागू कर रहे हैं। ये पूरा मामला अभी लगता है कुछ दिन और खीचेगा।

Next Stories
1 70वें जश्न-ए-आजादी पर भारतीयों ने गाया पाकिस्तान का राष्ट्रगान, पड़ोसी बोला-सलाम दोस्त
2 गोरखपुर की घटना पर फूटा कमल हासन का गुस्सा, बोले- देखो योगी आदित्य नाथ, दोबारा ऐसा..
3 सुई के छेद से आर-पार हो जाता है यह तिरंगा, क्या सच्ची में बना दुनिया का सबसे छोटा झंडा?
यह पढ़ा क्या?
X