ताज़ा खबर
 

चौधरी की चाय अभी भी मिलती है क्या? आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से बात कर पीएम मोदी को याद आए पुराने दिन

पीएम के इस सवाल पर सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मुस्कुराने लगी थीं। खुद पीएम भी पुराने दिनों को याद कर उस दौरान हंस रहे थे। पीएम ने आगे कार्यकर्ताओं की तारीफ भी की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फोटोः पीटीआई)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार (11 सितंबर) को आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से बात करते हुए अपने पुराने दिनों को याद कर बैठे। बातचीत के दौरान उन्होंने कार्यकर्ताओं से एक दुकान वाले के बारे में पूछा। कहा, “चौधरी की चाय अभी भी मिलती है क्या?” पीएम के इस सवाल पर सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मुस्कुराने लगी थीं। खुद पीएम भी पुराने दिनों को याद कर उस दौरान हंस रहे थे। पीएम ने आगे कार्यकर्ताओं की तारीफ भी की। बोले, “देश का प्रधानमंत्री कह सकता है कि उसके लाखों हाथ हैं और ये आप सब हैं।”

हुआ यूं कि पीएम ने बेहतरीन काम करने वाली आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आशा, एएनएम और मुख्य सेविकाओं से बात कर रहे थे। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग पर उसी दौरान उनका सामना महाराष्ट्र के ननदुरबार जिले की आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से हुआ। बातचीत की शुरुआत में पीएम ने क्षेत्रीय भाषा में पूछा, “आप लोग कैसे हैं? गणपति के आगमन की तैयारी चालू है?” कार्यकर्ताओं ने गर्मजोशी से इसका जवाब दिया।

फिर पीएम ने कहा, “अरे, हम पहले ननदुरबार में चौधरी की चाय पीने आते थे (हंसते हुए)। अभी भी मिलती है क्या? मुश्किल हालात में आप लोग इतना अच्छा काम कर रही हैं। मैं आपकी परिस्थितियों से भली-भांति परिचित हूं।”

Narendra Modi, PM, India, Old Days, Chaudhry, Chai, Tea, Nandurbar, Maharashtra, Aanganwadi Workers, Talk, Video Conferencing, National News, Hindi News वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आंगनबाड़ी और आशा कार्यकर्ताओं से बात करते हुए पीएम। (फोटोः पीआईबी)

वह आगे बोले “आप लोग तीन-चार किमी पैदल चलकर जाती हैं। अगर सांप काट ले तब भी आप चिंता करते हैं। वहां के लोग आपको ही डॉक्टर मानते हैं। वे आप पर ही विश्वास करते हैं। मैं समझता हूं कि ये बहुत बड़ा काम है। आपके इलाके में अंध विश्वासों का भी जाल फैला है। आपने लोगों को आधुनिक विज्ञान को स्वीकारने के लिए तैयार किया है। यह बहुत बड़ी सेवा है।”

3 तलाक के बाद PM का एक और बड़ा ऐलान- 30 लाख से ज्‍यादा महिलाओं का पैसा बढ़ाया

मोदी ऐप से देशभर की आंगनबाड़ी सेविकाओं, सहायिकाओं, आशा कार्यकर्ताओं और एएनएम से बात करते हुए पीएम ने उनका मानदेय बढ़ाने का ऐलान किया। पीएम बोले, “केंद्र सरकार की तरफ से जिन आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 3000 रुपए मानदेय मिलते हैं, उन्हें अब 4500 रुपए मिलेंगे। वहीं, जिन्हें 2250 रुपए मानदेय मिलता है, उन्हें बढ़ाकर 3500 रुपए कर दिया गया। आंगनबाड़ी सहायिकाओं को 1500 रुपए की जगह पर 2200 रुपए मानदेय प्रतिमाह मिलेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App