ताज़ा खबर
 

Champions Trophy 2017: सेमीफाइनल से पहले बांग्‍लादेशी फैंस का ‘डर्टी गेम’, वायरल कर रहे हैं ये फोटो

ऐसी ही फोटो पहले भी बांग्लादेश के फेंस ने भारत के खिलाफ सोशल मीडिया में डाली थीं।

बांग्लादेश की टीम के फेसबुक पेज का नाम भी बांग्लादेश क्रिकेट: द टाइगर्स है। (Photo: social media)

भारत और बांग्लादेश कल (15 जून) चैंपियंस ट्रॉफी का दूसरा सेमीफाइनल खेलेंगे। इससे पहले बांग्लादेश के क्रिकेट फेंस द्वारा सोशल मीडिया में एक फोटो डाली गई है फोटो में भारत के झंडे का अपमान किया गया है। बांग्लादेश की टीम को टाइगर के नाम से भी जाना जाता है। यहां तक कि उनके फेसबुक पेज का नाम भी बांग्लादेश क्रिकेट: द टाइगर्स है। बांग्लादेश के एक क्रिकेट फेन द्वारा डाली गई फोटो में एक कुत्ते पर भारत का झंडा लगा रखा है और एक टाइगर पर बांग्लादेश का झंडा लगा रखा। इसके साथ ही स्थानीय भाषा में लिखा है कि एक बहुत ही ग्रेट मैच होने जा रहा है। फोटो में कुत्ते को टाइगर के आगे दौड़कर छलांग लगाते हुए दिखाया गया है। वहीं टाइगर को भी कुत्ते के पीछ से छलांग लगाकर कुत्ते के आगे कूदने की कोशिश करते हुए दिखाया गया है। यह पहली बार नहीं है जब बांग्लादेश के क्रिकेट फेंस ने भारत का अपमान किया है।

जून 2015 में तीन मैचों की वन डे सीरिज के दौरान एक बांग्लादेशी अखबार एक फर्जी कटर का विज्ञापन छापता था। इसमें मुस्तफिजुर रहमान अपने उल्टे हाथ में एक कटर लिए खड़े होते थे और उनके नीचे एमएस धोनी, विराट कोहली, शिखर धवन, अजिंक्य रहाणे, रोहित शर्मा, आर अश्विन और रविंद्र जड़ेजा खड़े होते थे। इन सभी के सिर को आधा गंजा करके फोटो में दिखाया जाता था। भारतीय टीम के प्रति आलोचना यहीं नहीं रूकी। भारत और बांग्लादेश पिछले साल एशिया कप के फाइनल में शामिल थे। उस समय भी सोशल मीडिया में एक फोटो वायरल हुई थी इस फोटो में महेंद्र सिंह धोनी का सिर तास्किन अहमद के हाथ में दिखाया गया था। इस मैच में भारत ने बांग्लादेश को हरा दिया था।

गौरतलब है कि भारत और बांग्लादेश के बीच दूसरा सेमीफाइनल मैच बर्मिंघम के एजबेस्टन मैदान पर 15 जून को खेला जाएगा। अगर श्रीलंका के खिलाफ मैच को छोड़ दें तो अब तक भारत के लिए यह टूर्नामेंट शानदार रहा है। मौजूदा चैम्पियन टीम ने पाकिस्तान और द.अफ्रीका जैसी टीमों को मात दी है। लेकिन फिर भी भारत बांग्लादेश को हलके में लेने की गलती नहीं करेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App