ताज़ा खबर
 

रिचा चड्ढा बोलीं- हिन्‍दुत्‍ववादियों को भगाओ, धर्म बचाओ, पीछे लग गए ट्रोल

बॉलीवुड अभिनेत्री ने एक बार फिर से तीखा बयान दिया है। इस बार उन्होंने हिंदुत्ववादियों को निशाना बनाया है। अभिनेत्री ने कहा कि हिंदू धर्म को बचाने के लिए हिंदुत्ववादियों को भगाना होगा।

बॉलीवुड अभिनेत्री रिचा चड्ढा।

बॉलीवुड अभिनेत्री रिचा चड्ढा ने एक बार फिर से हिंदुत्व को लेकर तीखा बयान दिया है। उन्होंने भारत में हिंदू धर्म को खतरा होने की बात कही है। रिचा ने ट्वीट किया, ‘हां है भारत में हिंदू धर्म को खतरा। हिंदू धर्म को खतरा है हिंदुत्ववादियों से। धर्म बचाओ, हिंदुत्ववादियों को भगाओ। जनहित में जारी।’ अभिनेत्री की इस टिप्पणी पर लोगों ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। यश शर्मा ने ट्वीट किया, ‘फिल्मों में रोल की भीख मांगने के लिए दुष्कर्म के नाम पर हिंदुओं के धर्मस्थलों को बदनाम करने वालों को भगाओ। हिंदू धर्म और देश को बचाओ।’ आलोक ने लिखा, ‘सॉरी इस तरह से लोगों को भड़काने का काम मत करिए। ऐसा नहीं है कि सारी बातें आप जानती ही हैं। फिलहाल कुछ लोगों की वजह से हिंदुओं पर इल्जाम मत लगाइए। थोड़ा इतिहास भी पढ़िए।’ पूर्ण चंद्र व्यास ने ट्वीट किया, ‘लिखने का शौक इतना भी नहीं होना चाहिए कि कुछ भी लिख दें। लिखते समय समाज और धर्म का खयाल रखना चाहिए। हो सकता है आपको फिल्में नहीं मिल रही हैं और आप उन लोगों को आकर्षित करना चाहती हैं जो हिंदुत्व विरोधी हो।’ साहिल सिद्दिकी ने लिखा, ‘सच बोलने के लिए कलेजा चाहिए। जज्बे को सलाम।’ एक अन्य शख्स ने ट्वीट किया, ‘हिंदुत्ववादी क्या है रिचा? धर्म क्या है? और हिंदुत्ववादियों को कहां भगाएं और कौन सा देश है उनका?’

यह कोई पहला मौका नहीं जब रिचा चड्ढा ने इस तरह का बयान दिया है। उन्नाव और कठुआ दुष्कर्म कांड पर उन्होंने नरेंद्र मोदी की सरकार को आड़े हाथ लिया था। रिचा ने अप्रैल में ट्वीट किया था, ‘प्रिय सराकर, कृपा करके ‘बेटी बचाओ’ को बदलकर ‘बेटी हम से ही बचाओ’ कर दीजिए। आपके विधायक ही आपके नारे का मजाक बना रहे हैं। पीड़िता के पिता की जेल में हत्या कर दी गई। हिंदू होने का दावा न करें, क्योंकि आप महिलाओं को देवी की नजर से नहीं देखते हैं। ऐसे में अब इस पाखंड को बंद करें।’ इससे पहले उन्होंने लोकतंत्र में विचार और अभिव्यक्ति की आजादी को लेकर सख्त बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि आज शासन करने का तरीका है कोई भूखा हो तो उससे कहो कि राष्ट्रगान गाओ। बॉलीवुड अभिनेत्री ने कहा था कि लोकतंत्र का मतलब है आप जो चाहें, जहां चाहें और जैसे चाहें अपन बात कह सकते हैं। इसमें सरकार पूरी तरह से आपके प्रति जवाबदेह रहेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App