ताज़ा खबर
 

दो पेनिस के साथ पैदा हुआ बच्चा, डॉक्टरों के करिश्मे से बची जान

शिशु की सर्जरी के बाद उसकी हालत अब सामान्य है और उसके स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस फोटो)

दुनियाभर में आमतौर पर ऐसी खबरें आती रहीं हैं जहां शिशु दो सिर या चार पैर के साथ पैदा होते हैं। किन्हीं मामलों में तो पैदा हुए शिशु की दो से ज्यादा आंखें होने के भी मामले सामने आते रहे हैं। लेकिन यहां एक बहुत ही चौंकाने वाली घटना सामने आई है। मामला पूर्व में सोवियत रिपब्लिक रहे अजरबैजान का है। यहां दो पेनिस के साथ हुए बच्चे ने डॉक्टर्स को चौंका दिया। हालांकि करिश्माई सर्जरी के बाद शिशु के शरीर से इस अंग को अलग कर दिया गया है। मामले में साइंटिफिक रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑफ पेडियाट्रिक्स में नवजात शिशुओं का इलाज करने वाले विभाग के प्रमुख गुंडुज अगाएज ने बताया, ‘शिशु की सर्जरी के बाद उसकी हालत अब सामान्य है और उसके स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है। एक्सट्रा पेनिस शरीर पर आगे की तरफ था। सर्जरी के बाद उसे हटा दिया गया है।’

शिशु के माता-पिता के नाम का खुलासा ना करते हुए डॉक्टर अगाएज ने आगे बताया, ‘पैदा हुए शिशु के शरीर में दो पेनिस देखकर उसके माता-पिता भी काफी घबरा गए थे।’ मीडिया सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शिशु को उसके माता-पिता अब घर ले जा चुके हैं। वहीं डॉक्टरों के अनुसार शिशु के शरीर पर एक्सट्रा अंग होने और उसे हटाने से शिशु को कोई शारीरिक हानि नहीं हुई है। वह पूरी तरह से स्वास्थ्य है।

जानकारी के लिए बता दें कि मध्य प्रदेश में भी एक अनोखे शिशु के जन्म लेने का मामला सामने आया था। दरअसल देवास के महात्मा गांधी जिला अस्पताल में एक बच्चे ने जन्म लिया था जिसके दो सिर और तीन हाथ थे। भौंरासा निवासी शबाना को बच्चे की डिलीवरी के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बच्चे का जन्म ऑपरेशन से हुआ। तब डॉक्टरों का कहना था कि शबाना ने एक निजी अस्पताल में सोनोग्राफी कराई थी।

सोनोग्राफी की रिपोर्ट में शबाना को जुड़वा बच्चे होने की बात कही गई थी। जब ऑपरेशन के बाद डॉक्टरों ने देखा कि एक ही बच्चे ने जन्म लिया है और उसके दो सिर-तीन हाथ थे, लेकिन एक ही धड़ और दो पैर हैं तो यह देख सब दंग रह गए। जन्म के करीब डेढ़ घंटे बाद बच्चे की मृत्यु हो गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App