scorecardresearch

जिन्हें जेल में होना चाहिए था BJP ऐसे लोगों को चुनाव लड़ा रही है- बोले सपा प्रवक्ता, आगे हुआ ऐसा

सपा उम्मीदवारों की लिस्ट पर बीजेपी नेताओं ने चुटकी ली है। इसके जवाब में सपा प्रवक्ता ने कहा कि बीजेपी, जिन्हें जेल में होना चाहिए उन्हें चुनाव लड़वा रही है।

Akhilesh_Yadav
समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव (सोर्स- पीटीआई)

यूपी चुनाव में उम्मीदवारों की लिस्ट जारी होने के बाद सपा और बीजेपी एक दूसरे पर हमलावर हैं। बीजेपी के नेता समाजवादी पार्टी पर तंज कसते हुए कह रहे हैं कि जो जेल में बैठे है, सपा उन्हें विधानसभा भेजना चाहती है। वहीं समाजवादी पार्टी की तरफ खुद अखिलेश यादव ने पलटवार करते हुए कहा कि बीजेपी के अब तक घोषित 195 में से 82 प्रत्याशियों की छवि आपराधिक है।

न्यूज़ 24 चैनल के एक कार्यक्रम में जब एंकर ने सपा प्रवक्ता से पूछा कि आप जेल में बंद अपराधियों और दंगाइयों को चुनाव लड़ा रहे हैं? इस पर समाजवादी प्रवक्ता जूही सिंह ने जवाब देते हुए कहा कि बीजेपी वाले, जिन्हें जेल में होना चाहिए, उन्हें चुनाव लड़ा रहे हैं। ऐसे मुख्यमंत्री हैं, जो सीबीआई को मना कर दिए है कि मेरे खिलाफ चार्जशीट मत करो। केशव प्रसाद मौर्य पर कितने मुकदमे लगे हैं, ये सब जानते हैं।

जूही सिंह ने बीजेपी के आपराधिक छवि वाले नेताओं का नाम गिनाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री जी थोड़ा इन नामों पर भी गौर करें। हमारी लिस्ट पर टिप्पणी ये कर सकते हैं। हमारा मन, जिसको चाहेंगे, लड़ायेंगे। जब तक किसी पर दोष साबित नहीं होगा। तब तक वे नागरिक है। ऐसा संविधान में लिखा है और बीजेपी वाले संविधान को मानते नहीं है।

सपा प्रवक्ता ने कहा कि इनके यहां (बीजेपी) भी अपराधी बहुत हैं लेकिन यहां कमल छाप साबुन है, इससे अपराधी साफ़ हो जाते हैं। इस पर एंकर ने सवाल पूछा कि जो लोग जेल में हैं उन्हें आप कैसे चुनाव लड़ा सकते हैं? इस पर जूही सिंह ने कहा कि आप आरोप साबित कर दीजिए, वो खुद चुनाव नहीं लड़ पाएगा, नहीं तो जिसको चुनाव लड़ना है वे चुनाव लड़ेंगे।

बता दें कि समाजवादी पार्टी की लिस्ट जारी होने पर बीजेपी नेताओं ने चुटकी ली थी। बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने ट्वीट करते हुए कहा था कि समाजवादी पार्टी का खुल्ला खेल कुछ प्रत्याशी बेल पर तो कुछ प्रत्याशी जेल में। एक अन्य ट्वीट में संबित पात्रा ने लिखा कि समाजवादी पार्टी की मजबूरी है, गुंडों अपराधियों को प्रत्याशी बनाना जरूरी है। लिस्ट नई, अपराधी वही!!

वहीं अखिलेश यादव ने बीजेपी की जारी हुई लिस्ट पर पलटवार करते हुए कहा कि उप्र में भाजपा की टीम का कप्तान, उप कप्तान और अब तक घोषित 195 में से 82 प्रत्याशियों की छवि आपराधिक है और दिल्ली की टीम में तो साक्षात् उनके सम्मान में भाजपा लखनऊ की जगह ‘लखीमपुर’ को राजधानी घोषित कर दे।  

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट