ताज़ा खबर
 

टीवी डिबेट: पैनलिस्ट ने कहा-भगवा आतंकवाद ने मुस्लिमों को मारा तो भड़के संबित पात्रा, बोले- इस जिहादी को देखिए

राम मंदिर और आरएसएस के कार्यवाह के विवादित बयान को लेकर चैनल पर बहस का आयोजन किया गया। इसमें भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा, AIMIM प्रवक्ता असीम वकार, AIMPLB के सदस्य एजाज अरशद कासमी, इस्लामिक विद्वान सैयद सैफ अब्बास और अयोध्या सद्भावना समिति के अमरनाथ मिश्रा मौजूद थे।

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा की फाइल फोटो।

राम मंदिर-बाबरी मस्जिद मुद्दे पर टीवी चैनल न्यूज-18 पर भाजपा प्रवक्ता और AIMIM प्रवक्ता असीम वकार के बीच तीखी नोकझोंक हुई। इस बीच भाजपा प्रवक्ता ने असीम वकार को जिहादी तक कह डाला। दरअसल, चैनल पर आरएसएस नेता भैयाजी जोशी के उस विवादित बयान को लेकर डिबेट हो रही थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि मंदिर वहीं बनाया जाएगा, जबकि मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में है। रिपोर्ट के अनुसार, कुछ लोगों ने जोशी के इस बयान को देश की सबसे बड़ी अदालत को धमकी देने वाला बताया। एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जोशी ने कहा था कि राम मंदिर बनना तो तय है, अब वहां पर दूसरा कुछ नहीं बन सकता। कोर्ट के फैसले के बाद मंदिर का निर्माण शुरू होगा। राम मंदिर और आरएसएस के कार्यवाह के इसी विवादित बयान को लेकर चैनल पर बहस का आयोजन किया गया। इसमें भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा, AIMIM प्रवक्ता असीम वकार, AIMPLB के सदस्य एजाज अरशद कासमी, इस्लामिक विद्वान सैयद सैफ अब्बास और अयोध्या सद्भावना समिति के अमरनाथ मिश्रा मौजूद थे।

बहस के दौरान संबित पात्रा ने AIMPLB सदस्य को जवाब देते हुए कहा कि मंदिर तो वहीं बनेगा। बाद में AIMIM प्रवक्ता ने श्री श्री रविशंकर के उस बयान पर प्रतिक्रिया दी जिसमें उन्होंने कहा था कि विवादित भूमि पर मंदिर नहीं बना तो देश सीरिया बन जाएगा। राम मंदिर पर मुद्दे पर उन्होंने आरोप लगाया कि जिन बातों को सरकार या इसके मंत्री नहीं कह सकते, उन बातों को कहने के लिए अन्य लोगों को लगाया गया है।

इस मुद्दे पर पात्रा और वकार के बीच तीखी नोकझोंक हुई, जिस पर AIMIM प्रवक्ता ने कहा कि गुजरात में पुलिस और आतंकियों ने खून बहाया था। उन्होंने यहां तक कह डाला कि गुजरात में भगवा आतंकवाद ने पुलिस के साथ मिलकर खून बहाया। वकार की इसी बात पर भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने उन्हें जिहादी कह दिया।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App