ताज़ा खबर
 

भड़के संबित पात्रा मौलाना से कह बैठे- इस्लाम तो रोज शाम को खतरे में पड़ जाता है

बकरीद पर जानवरों की कुर्बानी को लेकर बहस में मुस्लिम धर्म गुरुओं पर संबित पात्रा अचानक गुस्सा गए।

Author Updated: September 4, 2017 1:26 PM
बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा।

शनिवार को बकरीद के मौके पर जानवरों की कुर्बानी को लेकर चल रहे एक लाइव टीवी डिबेट शो में कुछ ऐसा हुआ कि भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने ये कह दिया कि इस्लाम तो रोज शाम को खतरे में पड़ जाता है। दरअसल आरएसएस के मुस्लिम विंग ने देश के मुसलमानों से अपनील की थी कि इस बार बकरीद के मौके पर जानवरों की कुर्बानी ना देकर केक काट कर इस त्यौहार को मनाएं। इस अपील के बाद से ही मीडिया और सोशल मीडिया में इस बात पर बहस छिड़ गई कि क्या जानवरों की कुर्बानी देना ठीक है। इसी मुद्दे पर हिंदी न्यूज़ चैनल आज तक पर एक लाइव डिबेट शो का कार्यक्रम रखा गया। इस कार्यक्रम में कुछ मुस्लिम धर्म गुरुओं और इस्लामिक स्कॉलर के साथ बीजेपी के संबित पात्रा भी मौजूद थे।

मुस्लिम समुदाय के मेहमानों ने शो में बकरीद पर बकरे की कुर्बानी को लेकर अपनी दलीलें रखीं और कहा कि हमारे रिवाजों में जबरदस्ती दखल दिया जा रहा है। इस बात के जवाब में संबित पात्रा ने कहा कि किसी भी धर्म के जज्बातों से खेलना गलत बात है लेकिन ये भी सही नहीं है कि सोनू निगम और सुचित्रा कृष्णमूर्ति द्वारा अजान को लेकर ट्वीट करने पर उनके साथ इस तरह का व्यवहार हो।

 

संबित पात्रा मौलाना अंसार रज़ा नाराज हो गए। उनकी नाराजगी पर संबित पात्रा ने कमेंट करते हुए कहा कि देश में हर तरफ माहौल ठीक है लेकिन हर शाम इस्लाम खतरे में आ जाता है। मौलाना अंसार रज़ा की तरफ इशारा करते हुए कहा कि ये लोग रोज शाम को डिबेट में ऐसे जताते हैं कि इनके धर्म पर कितना बड़ा खतरा आ गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 फोर्ब्‍स ल‍िस्‍ट में भारत सबसे भ्रष्‍ट, कुमार व‍िश्‍वास ने मोदी पर मारा ताना- बना द‍िया ना नंबर-1
2 न्यूज़ चैनल का दावा- जेल में बंद राम रहीम नकली है, इस खुलासे से हिल जाएंगे मोदी, बैठ जाएंगे खट्टर
3 ट्विटर पर एक करोड़ फॉलोअर्स होने पर चेतन भगत ने की खुद की तारीफ, पड़ने लगी गालियां
ये पढ़ा क्या?
X