ताज़ा खबर
 

बीजेपी प्रवक्ता ने तस्वीर ट्वीट कर कहा- भटूरे खाकर अनशन में पहुंचे कांग्रेस नेता

दिल्ली के राजघाट स्थित महात्मा गांधी की समाधि के पास कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सोमवार (9 मार्च) को दलित उत्पीड़न के खिलाफ सद्भावना उपवास पर बैठे। लेकिन बीजेपी प्रवक्ता हरीश खुराना ने एक तस्वीर ट्वीट कर बताया कि कांग्रेस नेता भटूरे खाकर अनशन में पहुंचे।

बीजेपी नेता हरीश खुराना के द्वारा ट्वीट की गई तस्वीर।

दिल्ली के राजघाट स्थित महात्मा गांधी की समाधि के पास कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सोमवार (9 मार्च) को दलित उत्पीड़न के खिलाफ सद्भावना उपवास पर बैठे। लेकिन बीजेपी प्रवक्ता हरीश खुराना ने एक तस्वीर ट्वीट कर बताया कि कांग्रेस नेता भटूरे खाकर अनशन में पहुंचे।हरीश खुराना दिग्गज बीजेपी नेता और दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री मदन लाल खुराना के बेटे हैं। हरीश खुराना ने ट्वीट में लिखा- ”वाह रे हमारे कांग्रेस के नेता, लोगों को राजघाट पर अनशन के लिए बुलाया है और खुद एक रेस्तरां में बैठकर छोले-भटूरे के मजे ले रहे हो। सही बेवकूफ बनाते हो।” इस तस्वीर के बाद कांग्रेस खेमे में हड़कंप मच गया। हरीश खुराना ने जो तस्वीर ट्वीट की है, उसमें एक जगह दिल्ली प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष अजय माकन भी दिखाई दे रहे हैं, जो राहुल गांधी के साथ राजघाट पर अनशन में भी शामिल हुए। हालांकि, तस्वीर में छोले-भटूरे खाते हुए दिख रहे कांग्रेस नेता अरविंदर सिंह लवली ने भाजपा पर निशाना साधते हुए समाचार एजेंसी एएनआई को सफाई देते हुए कहा, ”तस्वीर सुबह 8 बजे से पहले की है, यह सांकेतिक उपवास है जो 10.30 से बजे से 4.30 बजे तक का है, यह अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल नहीं है।”

बीजेपी नेता हरीश खुराना के इस ट्वीट पर यूजर्स की जमकर प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। सचिन शर्मा नाम के यूजर ने कमेंट में लिखा- ”पहले पेट पूजा, बाद में कोई काम दूजा, ये राहुल गांधी को सीरियसली नहीं लेते, और लेना भी नहीं चाहिए।” दीपक ने लिखा- ”जो कांग्रेसी बापू से झूठ बोल सकते हैं, उनके लिए 125 करोड़ भारतीय क्या हैं।” अमित तिवारी ने लिखा- ”खा पीकर अनशन करेंगे, भूखे पेट थोड़े न अनशन होगा, वो कहावत तो सुनी होगी आपने कि भूखे भजन न होय गोपाला। इनका यही फार्मूला है।” राजेश पात्रो ने लिखा- ”कांग्रेस ने पिछले 70 साल से बेवकूफ बनाने के अलावा कहां कुछ किया है?” संदीप अहीरे ने लिखा- ”वाह क्या नौटंकी है।”

बता दें कि कर्नाटक चुनाव नजदीक हैं और हाल ही में सुप्रीम कोर्ट के एससी/एसटी एक्ट में बदलाव करने के विरोध में दलित संगठनों के आह्वान पर हुए भारत बंद के बाद कांग्रेस इसे दलित वोटरों के बीच पैठ बनाने के मौके के तौर पर देख रही है। कांग्रेस की तरफ से पुरजोर तरीके से केंद्र की मोदी सरकार और बीजेपी को दलित विरोधी बताया जा रहा है। कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, “राजघाट, दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष, श्री राहुल गांधी ‘सदभावना उपवास’ पर। करोड़ों कांग्रेस जन पूरे देश में सामाजिक सौहार्द, भाईचारा व प्रेम के पक्ष में हर जिला स्तर पर उपवास पर।” सुरजेवाला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, “सामाजिक सौहार्द और भाईचारा मोदी सरकार के राज में खतरे में हैं। वह समाज को बांटना चाहते हैं, इसलिए कांग्रेस का फर्ज है कि इस तरह की ताकतों से लड़ाई लड़ें।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App