ताज़ा खबर
 

नाइट क्लब और बार का उद्घाटन करने पहुंते बीजेपी सांसद साक्षी महाराज, लोगों ने उड़ाया मजाक

इस मामले में अपनी फजीहत होते देख साक्षी महाराज ने अपने बचाव में बयान दिया है। उन्होंने कहा कि जब उन्हें इस बात की जानकारी हुई तो उन्होंने खुद नाराजगी जाहिर की और उन्हें नाइट क्लब का लाइसेंस भी दिखाने को कहा।

Author Updated: April 16, 2018 4:38 PM
उद्घाटन के बाद नाइट क्लब में बैठे साक्षी महाराज। फोटो- ट्विटर

अपने विवादित बयानों से हमेशा सुर्खियां बटरोने वाले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सांसद साक्षी महाराज एक बार फिर चर्चा में हैं। रविवार को साक्षी महाराज लखनऊ में एक नाइट क्लब का उद्घाटन करने पहुंच गए। इस दौरान बीजेपी के कार्यकर्ताओं का विरोध भी उन्हें झेलना पड़ा। आपको बता दें कि उन्नाव गैंगरेप को लेकर बीजेपी सियासी फजीहत झेलनी पड़ रही है। साक्षी महाराज खुद उन्नाव से ही बीजेपी के सांसद हैं। ऐसे में साक्षी महाराज के इस कदम का विरोध भी शुरू हो गया है। लखनऊ के अलीगंज में खोले गए नाइट क्लब और बार का भगवा कपड़ों में उद्घाटन करने पहुंचे साक्षी महाराज का विरोध खुद उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने ही किया। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने सांसद (साक्षी महाराज) की शिकायत यूपी के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पाण्डेय से भी की है।

वहीं विपक्ष भी साक्षी महाराज के इस कदम पर चुटकी लेने से पीछे नहीं रहा। समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता सुनील कुमार साजन ने साक्षी महाराज की चुटकी लेते हुए ट्वीट किया – अपने स्तरहीन बयानों के जरिये सुर्खियों में रहने वाले भाजपा के चहेते साक्षी महाराज को ‘हुक्काबार और नाइटक्लब’ जैसे अय्याशी के अड्डों का उद्घाटन करने में कोई परहेज नहीं! पूज्य संतों के नाम को कलंकित करने वाले ढोंगी रामराज्य में भोगी का जीवन जीते हैं और बात हिंदुत्व की करते हैं।

सोशल मीडिया में भी इस साक्षी महाराज द्वारा नाइट क्लब और बार के उद्घाटन करने पर मौज ली जा रही है। लोग लिख रहे हैं कि बीजेपी सांसद ने ठीक ही किया क्लब का उद्घाटन करके, अब यहां आरएसएस के परेशान और संस्कारी कार्यकर्ता आ कर खुद को थोड़ी राहत दे सकेंगे।

इस मामले में अपनी फजीहत होते देख साक्षी महाराज ने अपने बचाव में बयान दिया है। उन्होंने कहा कि जब उन्हें इस बात की जानकारी हुई तो उन्होंने खुद नाराजगी जाहिर की और उन्हें नाइट क्लब का लाइसेंस भी दिखाने को कहा। साक्षी महाराज ने कहा कि वह सिर्फ सांसद ही नहीं, बल्कि एक साधु भी हैं। साधु इस तरह की चीजों से वैसे भी दूर रहते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 IPL 2018: क्रिस गेल ने मारा इतना लंबा छक्का, खुला रह गया प्रीति जिंटा का मुंह
2 आप एमएलए का विवादास्पद ट्वीट: मोदी जी अपने नेताओं को शपथ दिलाएंगे- “न रेप करूंगा, न करने दूंगा’
3 राम मंदिर पर बयान देकर ट्रोल हुए मोहन भागवत, लोग बोले- मंदिर नहीं बनेगा तो बाबा बलात्कार कैसे कर पाएंगे?
ये पढ़ा क्या?
X