ताज़ा खबर
 

बीजेपी सांसद रूपा गांगुली ने एंकर से कहा- आपको पता नहीं है भैया, पुल‍िस ने मुझे पकड़ कर मरवाया था

बुधवार 30 मई को पश्चिम बंगाल के पुरुलिया जिले में बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई थी। आरोपियों ने हत्या कर लाश को पेड़ से टांग दिया था।

भाजपा सांसद रूपा गांगुली । (फाइल फोटो)

मशहूर टीवी सीरियल महाभारत में द्रौपदी का किरदार निभाने वाली भारतीय जनता पार्टी की राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली ने लाइव डिबेट शो में एंकर से कहा कि, भैया आपको पता नहीं है इन पुलिसवालों ने मुझे भी पकड़कर मरवाया था। दरअसल बुधवार 30 मई को पश्चिम बंगाल के पुरुलिया जिले में बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई थी। आरोपियों ने हत्या कर लाश को पेड़ से टांग दिया था। मार दिये गए बीजेपी कार्यकर्ता का नाम त्रिलोचन मेहता था। 20 साल के त्रिलोचन महतो की लाश घर के पास ही नायलॉन की रस्सी ने लटकती मिली। इतना ही नहीं, त्रिलोचन महतो ने जो टी-शर्ट पहनी थी, उसपर एक पोस्टर चिपका मिला जिसपर लिखा था कि बीजेपी के लिए काम करने वालों का यही अंजाम होगा।

भारतीय जनता पार्टी ने इसे राजनीतिक हत्या बताया है। बीजेपी नेताओं का दावा है कि हालिया पंचायत चुनाव में बीजेपी की ओर से त्रिलोचन की सक्रिय भागीदारी के कारण ही उसकी हत्या की गई है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कार्यकर्ता की संदिग्ध हत्या को लेकर पश्चिम बंगाल की तृणमूल कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि उसने ‘कम्युनिस्ट शासन की हिंसक विरासत’ को पीछे छोड़ दिया है।’ बीजेपी कार्यकर्ता की इस तरह से हत्या पर हिंदी न्यूज़ चैनल न्यूज़ 18 हिंदी ने एक डिबेट शो रखा था। इस शो में तमाम मेहमानों के साथ ही बीजेपी सांसद रूपा गांगुली भी मौजूद थीं।

शो में जब एंकर ने रूपा गांगुली से कहा कि आखिर कोई इस तरह का काम क्यों करेगा कि किसी को मार दे फिर पकड़ाने के लिए अपनी हैंडराइटिंग में नोट लिख कर छोड़ दे। इस पर रूपा गांगुली ने जवाब देते हुए कहा कि, ‘भैया मैं खुद भी ऐसी घटना की शिकार हूं। मुझे भी पुलिस के सामने लोगों ने पीटा था। वहां मौजूद पुलिसवालों ने मुझे बचाने की रत्ती भर भी कोशिश नहीं की थी। यहां तक कि उन लोगों ने मुझे चारों ओर से इस तरह घेर रखा था कि भीड़ आसानी से मुझे मार सके।’ रूपा गांगुली ने कहा कि पुलिस भी बंगाल में अपराधियों के साथ मिली हुई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App