BJP MP paresh rawal troll after a tweet on NRC - NRC: बीजेपी सांसद का तंज- 2019 का पहला रुझान आ गया, लोग बोले- खुश तो ऐसे हो रहे जैसे 40 लाख भाजपा में शामिल हो गए - Jansatta
ताज़ा खबर
 

NRC: बीजेपी सांसद का तंज- 2019 का पहला रुझान आ गया, लोग बोले- खुश तो ऐसे हो रहे जैसे 40 लाख भाजपा में शामिल हो गए

भाजपा सांसद परेश रावल ने एनआरसी को ले एक ऐसा ट्वीट किया, जिसके बाद यूजर्स ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया। कहा कि खुश तो ऐसे हो रहे हैं जैसे 40 लाख लोगों ने 'घर वापसी' कर लिया हो।

एनआरसी पर कमेंट पर ट्रोल हो गए परेश रावल (फोटो सोर्स: परेश रावल/ट्वीटर)

असर में रजिस्टर ऑफ सिटिजंस (एनआरसी) ड्राफ्ट की पहली सूची जारी होने के बाद से देश की सियासत तेज हो गई है। मोदी सरकार इसे सही बता रही है, वहीं कुछ सियासी दल इसे वोट की राजनीति बता रहे हैं। इन विवादों के बीच भाजपा सांसद परेश रावल ने एनआरसी को ले एक ऐसा ट्वीट किया, जिसके बाद यूजर्स ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया। हालांकि, कुछ यूजर्स ने उनका समर्थन भी किया है। परेश रावल ने ट्वीट किया, “2019 का पहला रूझान आ गया है। विपक्ष ’40 लाख’ वोटों से पीछे चल रहा है।” उनके इस ट्वीट के बाद लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया। कहा कि खुश तो ऐसे हो रहे हैं जैसे 40 लाख लोग भाजपा में शामिल हो गए। इसी तरह से कई लोगों ने परेश रावल पर तंज करना शुरू कर दिया।

सत्यसारथी-नरेंद्र लिखते हैं कि, “खुश तो ऐसे हो रहे हैं, जैसे 40 लाख लोगों ने ‘घर वापसी’ कर लिया हो और भाजपा में शामिल हो गए हों? 2019 के चुनाव में भाजपा को शायद 40 लाख ही वोट मिलेंगे?” वहीं, एक अन्य ने लिखा कि, “600 करोड़ भारतीय भाजपा को वोट देंगे।” इस पर सत्यसारथी ने पुन: ट्वीट किया कि भारत में तो नहीं देंगे बांकि दुनिया भले ही दे दे। मन की बात कहने वाले सुनते नहीं, यही तो सबसे बड़ी कमी है।

एक दूसरे यूजर ने कमेंट किया कि इन बाबु भैया की अल्पबुद्दि पर तरस आता है इन्होने शायद कल कल का चुनाव आयोग प्रमुख का बयान नही सुना जिन्होने स्पष्ट कहा है एनआरसी NRC नही होने का मतलब वोट से वंचित होना नही है! वहीं, अल्का तिवारी सिंह ने परेश रावल के समर्थन में रिट्वीट किया कि, “परसों तक जो लोग पूछ रहे थे 15 लाख वाली लिस्ट में मेरा नाम है कि नहीं आज चिंता में है की कहीं 40 लाख में मेरा तो नहीं।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App