ताज़ा खबर
 

बीजेपी विधायक का योगी पर न‍िशाना- मोदी नाम से पा गए राज,कर न सके जनता का काज

Kairana up Chunav Result 2018, Kairana By Election Result 2018, Kairana Lok Sabha bypoll Election Result 2018:हरदोई की गोपामऊ विधानसभा सीट से पार्टी विधायक श्याम प्रकाश ने कैराना और नूरपुर में पार्टी की हार पर कविता लिखकर भड़ास निकाली है। इस कविता में विधायक ने मोदी के नाम पर सत्ता में आने का जहां पार्टी नेताओं को ताना मारा है, वहीं जनता का कार्य न करने का आरोप लगाया है।

Author नई दिल्ली | May 31, 2018 8:47 PM
उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ (फोटो सोर्स- PTI)

उत्तर प्रदेश में हो रहे उपचुनावों में लगातार बीजेपी की हार पर अंदरखाने असंतोष के स्वर उभरने लगे हैं। पार्टी के कार्यकर्ता ही नहीं अब विधायक भी पार्टी के बड़े नेताओं की कार्यप्रणाली को कठघरे में खड़ा कर रहे। इसी कड़ी में हरदोई की गोपामऊ विधानसभा सीट से पार्टी विधायक श्याम प्रकाश ने कैराना और नूरपुर में पार्टी की हार पर कविता लिखकर भड़ास निकाली है। इस कविता में विधायक ने मोदी के नाम पर सत्ता में आने का जहां पार्टी नेताओं को ताना मारा है, वहीं जनता का कार्य न करने का आरोप लगाया है।विधायक ने कविता में मुख्यमंत्री को असहाय करार दिया है। माना जा रहा है कि उन्होंने कविता के बहाने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा है। विधायक ने फेसबुक पोस्ट में कहा है कि पहले गोरखपुर, फूलपुर और अब कैराना , नूरपुर में भाजपा की हार का हमें दुख है, मगर वर्तमान हकीकत की पांच लाइनें पेश हैं।

श्याम प्रकाश विधायक ने लिखा है-मोदी नाम से मोदी नाम से पा गए राज।कर न सके जनता मन काज। संघ,संगठन हाथ लगाम।मुख्यमंत्री भी असहाय।।जनता और विधायक त्रस्त।अधिकारी,अध्यक्ष भी भ्रष्ट।।उतर गई पटरी से रेल।फेल हुआ, अधिकारी राज।।समझदार को है ये इशारा।आगे है अधिकार तुम्हारा।।

हरदोई के बीजेपी विधायक ने उपचुनाव में हार पर कविता लिखकर साधा निशाना।(फेसबुक-स्क्रीनशॉट)

विधायक की इस कविता वाली पोस्ट पर तमाम लोगों ने प्रतिक्रियाएं जतानी शुरू कीं। सुधीर तिवारी ने कहा-आपका दर्द उचित है, जनता परिणाम चाहती है,अब न समझे तो दिल्ली दूर है।राघवेंद्र दीक्षित ने कहा-दोबारा सत्ता से कोसों दूर हो जाएंगे, अब भी चेत जाएं।सर्वेश मिश्रा ने कहा-हकीकत कहने की हिम्मत विधायक जी, सिर्फ आपमें है। हरिओम मिश्रा ने लिखा-जिस पार्टी का कार्यकर्ता परेशान होता है, वह पार्टी सत्ता से बाहर हो जाती है।बता दें कि फूलपुर और गोरखपुर लोकसभा सीट के उपचुनाव में बीजेपी को हराने के बाद सपा ने नूरपुर विधानसभा सीट भी जीती। वहीं कैराना की सीट भी बीजेपी नहीं बचा सकी।इस बहुचर्चित सीट के उपचुनाव में सपा-बसपा के समर्थन से रालोद प्रत्याशी तबस्सुम ने बीजेपी उम्मीदवार मृगांका सिंह को 50 हजार से अधिक वोटों से हराया। कैराना की सीट मृगांका के पिता हुकुम सिंह के निधन से खाली हुई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App