ताज़ा खबर
 

वीडियो: महिला सब-इंस्‍पेक्‍टर पर भड़के बीजेपी विधायक, मारने के लिए उठा दिया हाथ

भाजपा विधायक राजकुमार ठुकराल इस वीडियो में शहर की पुलिस पेट्रोल यूनिट की महिला सब-इंस्पेक्टर अनिता गैरोला पर चीखते नजर आ रहे हैं। इस दौरान विधायक महिला पुलिसकर्मी को बदतमीज बोलते हुए तमीज में रहने की नसीहत भी देते दिखाई दिए।

Author September 10, 2018 8:04 AM
भाजपा विधायक राजकुमार ठुकराल। (image source-ANI) (Video grab image)

उत्तराखंड से एक ऐसा वीडियो सामने आया है, जिसमें एक भाजपा विधायक महिला सब-इंस्पेक्टर पर भड़कते नजर आ रहे हैं। इतना ही नहीं विधायक इतना नाराज हो जाते हैं कि उन्होंने महिला सब-इंस्पेक्टर को लगभग पीटने के लिए अपना हाथ उठा ही लिया था। हालांकि किसी तरह वहां मौजूद लोगों ने स्थिति को संभाला और महिला सब-इंस्पेक्टर और विधायक के बीच बीच-बचाव कराया। उत्तराखंड के रुद्रपुर से भाजपा विधायक राजकुमार ठुकराल इस वीडियो में शहर की पुलिस पेट्रोल यूनिट की महिला सब-इंस्पेक्टर अनिता गैरोला पर चीखते नजर आ रहे हैं। इस दौरान विधायक महिला पुलिसकर्मी को बदतमीज बोलते हुए तमीज में रहने की नसीहत भी देते दिखाई दिए। बताया जा रहा है कि पुलिस ने 2 लोगों को ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने पर हिरासत में लिया था। इसी मामले में विधायक पुलिस थाने पहुंचे थे और पुलिसकर्मियों पर भड़क गए।

बताया जा रहा है कि एक बाइक सवार युवक अपनी पत्नी के साथ कहीं जा रहा था। तभी इंदिरा चौक पर महिला सब-इंस्पेक्टर अनिता गैरोला वाहनों की चेकिंग कर रहीं थी। सिटी पेट्रोल यूनिट का कहना है कि बाइक सवार नशे में था और बाइक के कागजात मांगने पर वह पुलिसकर्मियों के साथ उलझ गया था। जिसके बाद आरोपी युवक को उसकी पत्नी के साथ कोतवाली लाया गया था। बाइक सवार ने सिटी पेट्रोल यूनिट के कर्मियों पर उसकी पत्नी के साथ बदसलूकी का आरोप लगाया था। भाजपा विधायक इसी मामले में थाने पहुंचे थे और वहां हंगामा शुरु कर दिया।

भाजपा विधायक राजकुमार ठुकराल इससे पहले भी कई बार विवादों में आ चुके हैं। इसी साल मई महीने में भी राजकुमार ठुकराल का एक वीडियो सामने आया था, जिसमें भाजपा विधायक ऊधमसिंह नगर के किच्छा के नजदीक स्थित टोल प्लाजा पर टोल प्लाजा कर्मियों को धमकाते नजर आए थे। विधायक का कहना था कि एनएच-74 का काम अभी पूरा नहीं हुआ है, इसलिए अभी यहां टोल नहीं लिया जा सकता। इसी के साथ ही राजकुमार ठुकराल का बीते मार्च माह में एक महिला के साथ मारपीट करने के मामले में फंस चुके हैं। ऐसा नहीं है कि नेताओं द्वारा पुलिस पर भड़कने की यह कोइ पहली घटना हो, इससे पहले भी कई बार नेताओं और पुलिस के बीच सार्वजनिक तौर पर बहस होती देखी गई है। बीते साल अप्रैल में उत्तर प्रदेश के मेरठ की सड़कों पर भी ऐसा ही एक नजारा देखने को मिला था, जिसमें भाजपा नेता संजय त्यागी अपने बेटे को पुलिस द्वारा हिरासत में लेने पर इतना भड़क गए थे कि बीच सड़क ही पुलिस के साथ हाथापाई पर उतर आए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X