scorecardresearch

बिलकिस बानो के रेपिस्ट ब्राह्मण और अच्छे संस्कार वाले थे – बीजेपी विधायक का बयान, भड़क गए यूजर्स

बिलकिस बानो के सामूहिक बलात्कार और उनके परिजन की हत्या से संबंधित मामले में 11 दोषियों की रिहाई के फैसले को लेकर राजनीत‍िक सरगर्मी तेज हो गई है।

बिलकिस बानो के रेपिस्ट ब्राह्मण और अच्छे संस्कार वाले थे – बीजेपी विधायक का बयान, भड़क गए यूजर्स
बिलकिस बानो। (एक्सप्रेस फोटो)

बिलकिस बानो के सामूहिक बलात्कार और उनके परिजन की हत्या से संबंधित मामले में 11 दोषियों की रिहाई के फैसले को लेकर विपक्षी दल गुजरात सरकार पर हमलावर है। इसी बीच गोधरा से बीजेपी विधायक सीके राउलजी ने एक ऐसा बयान दिया, जिससे विपक्षी दलों के साथ आम सोशल मीडिया यूजर्स भी भड़क गए। बीजेपी विधायक के बयान पर सोशल मीडिया यूजर्स का कहना है कि इस तरह के बयान देने वाले के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।

बीजेपी विधायक का बयान

बीजेपी विधायक सीके राउलजी बिलकिस बानो मामले में गुजरात सरकार की ओर से बनाए गए उस चैनल का हिस्सा थे, जिसने बलात्कारियों की रिहाई की वकालत की। इस मसले को लेकर बीजेपी विधायक एक चैनल से बात कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि मुझे नहीं पता कि उन्होंने क्राइम किया है या नहीं लेकिन क्राइम के बारे में कोई इंटेंशनली भी हो सकता है। दोषियों की जो एक्टिविटी थी, वह काफी अच्छी थी। आगे उन्होंने कहा, ‘वे ब्राह्मण थे और ब्राह्मण के संस्कार अच्छे होते हैं।’

बीजेपी विधायक के बयान पर भड़के असदुद्दीन ओवैसी

बीजेपी विधायक के इस बयान पर असदुद्दीन ओवैसी ने लिखा कि क्या यही पीएम मोदी का नारी शक्ति एजेंडा है। सामूहिक बलात्कार और बच्चे की हत्या अच्छे संस्कार हैं? भाजपा जाति की बुनियाद पर जेल से मुक्त रिहाई पास दे रही है, हमें अल्लाह का शुक्रिया अदा करना चाहिए कि गोडसे को मुजरिम करार कर फांसी दे दी गई। इसके साथ ही उन्होंने यह भी लिखा कि चाहे गुजरात हो या कठुआ, बलात्कारियों के साथ खड़े रहना भाजपा की हमेशा से नीति रही है।

राहुल गांधी ने भी बोला हमला

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री से पूछा कि उन्नाव में भाजपा MLA को बचाने का काम, कठुआ में बलात्कारियों के समर्थन में रैली, हाथरस में बलात्कारियों के पक्ष में सरकार, गुजरात में बलात्कारियों की रिहाई और सम्मान। अपराधियों का समर्थन महिलाओं के प्रति भाजपा की ओछी मानसिकता को दर्शाता है। ऐसी राजनीति पर शर्मिंदगी नहीं होती, प्रधानमंत्री जी?

सोशल मीडिया यूजर्स ने पीएम मोदी पर किया कटाक्ष

फिल्म मेकर विनोद कापड़ी ने लिखा कि ये की मोदी पार्टी के विधायक हैं, मोदी के राज्य का मामला है और मोदी के शासनकाल का मामला है, लिहाजा मोदी का चुप रहना तो बनता है। रणवीर सिंह नाम के एक ट्विटर यूजर पूछते हैं, ‘ बलात्कार और कत्ल कब से ब्राह्मणों के अच्छे संस्कारों में गिने जाने लगे?’ सौरभ राय नाम के ट्विटर यूजर्स लिखते हैं – फिर तो इन्होंने रावण को भी क्लीन चिट दे दी? किसी की जाति, बिरादरी, धर्म होना किसी के चरित्र का सर्टिफिकेट नहीं होता।

पढें ट्रेंडिंग (Trending News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट